महिला सुरक्षा के लिए अब PM मोदी के टिप्स पर काम करेगी पुलिस, आप भी जानिए कैसे होगा बदलाव

देश में महिला सुरक्षा को लेकर शर्म का सामना कर रही सरकार अब इसे लेकर और ज्यादा सक्रिय हो गयी है. बीते दिनों हैदराबाद और उन्नाव में हुए दुष्कर्म और हत्या के मामलों ने तो जैसे देश को हिला कर रख दिया. इसके बाद मोदी सरकार को विरोधी दलों और जनता के गुस्से का सामना करना पड़ा. लेकिन अब मोदी सरकार इसे लेकर सख्ती बरतने जा रही है.

मोदी सरकार

बीते रविवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने महिला सुरक्षा को लेकर कानून व्यवस्था को प्रभावी बनाने के लिए पुलिस को नए गुर सिखाये. साथ ही मोदी ने पुलिस और जनता के बीच आपसी रिश्ते को मजबूत बनाने पर बल दिया. PM मोदी के ये बयान तब आये जब पूरे देश में बीते दिनों हुई दुष्कर्म की घटनाओं को लेकर आक्रोश का माहौल बना हुआ है.

अपनी छवि सुधारने पर काम करे पुलिस:- PM मोदी

पुणे में पुलिस महानिदेशकों (डीजीपी)/ पुलिस महानिरीक्षकों (आईजीपी) के सम्मेलन को रविवार को संबोधित करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने यह भी कहा कि अधिकारियों को पुलिस बल की छवि सुधारने की दिशा में काम करना चाहिए, ताकि महिलाओं और बच्चों समेत समाज के सभी वर्ग में उनके प्रति भरोसा पैदा हो.

प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से जारी एक बयान में कहा गया कि प्रधानमंत्री मोदी का मानना है कि प्रौद्योगिकी सक्रिय पुलिस निगरानी सुनिश्चित करने में एक प्रभावी साधन उपलब्ध कराता है, जो आम आदमी की प्रतिक्रिया को ध्यान में रखे.

जांच के घेरे में हैदराबाद एनकाउंटर, एसआईटी करेगी पूरे मामले की पड़ताल

बयान के मुताबिक, प्रधानमंत्री ने अपने कर्तव्य का निर्वहन करने के दौरान पुलिस के सामने आने वाली चुनौतियों एवं दबाव को भी स्वीकार किया. बयान में कहा गया, हालांकि, उन्होंने कहा कि जब भी वे संशय में हों उन्हें उन आदर्शों और उन भावों को याद करना चाहिए जिसके साथ वे सिविल सेवा की परीक्षाओं में शामिल हुए थे और राष्ट्र हित में काम करते हैं और इस दौरान उन्हें समाज के अति कमजोर और अत्यंत गरीब वर्गों के कल्याण को ध्यान में रखना चाहिए.

=>
LIVE TV