बेरोजगारी के मुद्दे से ध्यान भटकाने के लिये भाजपा लाई सीएएः सपा

रिपोर्ट:- अनुज कौशिक

जालौनः महंगाई-बेरोजगारी जैसे ज्वलंत मुद्दों से ध्यान भटकाने के लिए भाजपा द्वारा सीएए और एनआरसी को लाया गया है, जिससे लोगों का ध्यान इसमें लग जाए और लोग महंगाई बेरोजगारी व किसानों के ज्वलंत मुद्दों को भूल जाये और भाजपा अपने साथी पूंजीपतियों को मालामाल कर दे। यह बात समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल ने जालौन में सपा कार्यालय में पत्रकारों से बात करते हुए कही।

वह यहां पर कार्यकर्ताओं को संबोधित करने आये थे। उन्होंने कहा कि उनके राष्ट्रीय अध्यक्ष पहले ही कह चुके है कि देश में महंगाई बेरोजगारी की दर लगातार बढ़ रही है, लेकिन इस ओर केंद्र व प्रदेश की भाजपा सरकार का ध्यान नहीं जा रहा है। इन मुद्दों से जनता का ध्यान भटकाने के लिए केंद्र सरकार द्वारा आनन-फानन में नागरिकता संशोधन अधिनियम और एनआरसी को लागू किया जा रहा है, जिससे सभी लोग मुख्य मुद्दों से भटक जाये।

उन्होंने कहा कि सीएए और एनआरसी के आने से देश में आर्थिक विषमता व आर्थिक गैर बिरादरी में असमानता बढ़ी है। वही महंगाई बढ़ने से भाजपा अपने पूंजीपति साथियों को मालामाल करने में लगी गई है, जबकि भाजपा गरीबों से वोट लेकर उनके साथ छलावा कर रही है। वही उन्होंने भाजपा सरकार को आड़े हाथों लेते हुए उन पर जमकर हमला बोलते हुये कहा कि देश व प्रदेश में अराजकता और हिंसा बढ़ने का मुख्य कारण बेरोजगारी का बढ़ना है।

मामूली विवाद पर दबंगों ने महिला पर फेंका एसिड, हालत गंभीर

जबसे बेरोजगारी बढ़ी है हिंसात्मक घटनाओं का इजाफा हुआ है और भाजपा सरकार रोजगार देने के नाम पर सिर्फ खानापूर्ति कर रही है। वही किसान भी इस सरकार में परेशान है, अभी तक सरकार द्वारा स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट को सरकार द्वारा लागू नहीं किया गया, जिस कारण किसानों को फसल का उचित मूल्य नहीं मिल पाता है। इस सरकार में किसान भी परेशान है, जबकि मुलायम सिंह और अखिलेश यादव की सरकार में किसानों को प्रत्येक सुविधा दी जा रही थी। इसीलिए सभी लोग 2022 के लिए तैयार हो जाए और फिर से सपा सरकार को बनाएं।

=>
LIVE TV