Tuesday , June 27 2017

बड़ा खुलासा : भारत नहीं, अमेरिकी दबाव में मिली बांग्लादेश को आज़ादी

बांग्लादेश को आज़ादीनई दिल्ली। बांग्लादेश की आज़ादी को लेकर एक बड़ा खुलासा हुआ है। अमेरिका के एक पूर्व सुरक्षा सलाहकार का दावा है कि पाकिस्तान नवंबर 1971 में बांग्लादेश को आज़ादी देने के लिए अमेरिकी दबाव में राजी हुआ था। तब बांग्लादेश को पूर्वी पाकिस्तान कहा जाता है। इसके एक  महीने बाद पाकिस्तान ने 3 दिसंबर 1971 को भारत पर हमला किया।

अमेरिकन राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार किसिंगर ने एक विदेशी मैगजीन को दिए इंटरव्यू में यह राज खोला है कि पाकिस्तान का वायदों को तोड़ने का पुराना इतिहास रहा है।

…तो भारत पर हमला न करता पाक

उन्होंने कहा कि अगर पाकिस्तान बांग्लादेश को अपनी इच्छा से स्वतंत्रता देना चाहता तो पाकिस्तान की वायुसेना इंडियन एयरफोर्स के एयरबेस पर ऑपरेशन चंगेज खान के तहत हमला नहीं करती। पाकिस्तान के इसी हमले से नाराज होकर भारत नैतिक रूप से बांग्लादेश लिबरेशन वॉर से जुड़ गया था।

पाकिस्तान को इस्तेमाल कर रहा अमेरिका

1971 में अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार किसिंगर ने कहा कि अमेरिका पूर्वी पाकिस्तान में पाकिस्तान की ओर से किए जा रहे मानवाधिकार उल्लंघनों की निंदा नहीं कर सकता था क्योंकि वह चीन से अपने कूटनीतिक संबंध सुधारने के लिए माध्यम के तौर पर पाकिस्तान को इस्तेमाल कर रहा था। नवंबर में अमेरिका के तत्कालीन राष्ट्रपति निक्सन के दबाव पर पाकिस्तान बांग्लादेश को अगले साल मार्च में स्वतंत्रता देने के लिए तैयार हो गया है।

LIVE TV