पार्टनर के साथ हुई नोक-झोक में भूल से भी न करें ये 5 गलतियां, आप बना सकते हैं एक-दूसरे के दुश्‍मन

प्‍यार और तकरार हर कपल के बीच होते हैं, मगर इस बात को आप कितनी गंभीरता से लेते हैं ये बात बहुत मायने रखती है। अगर आप अपने रिश्‍तों में लड़ाई झगड़े और बहस को गंभीरता से नहीं लेते तो ये आपके रिश्‍ते को कहीं न कहीं मजबूत बनाते हैं। कुछ लोग छोटी-छोटी बातों को लेकर इतने गंभीर और नकारात्‍मक हो जाते हैं कि झगड़े काफी उग्र हो जाते हैं और आप दोनों एक-दूसरे के दुश्‍मन बन जाते हैं और जब ये झगड़े बढ़ जाते हैं तो इस दौरान आप एक-दूसरे को ऐसी बातें बोल देते हैं जो शायद कभी नहीं कहनी चाहिए।

ऐसा शायद इसलिए होता है कि क्‍यों कि उस समय आप दोनों ही काफी गुस्‍से में होते हैं। गुस्‍से में इंसान अपना आपा खो देता है जिससे बातें बिगड़ जाती है। यहां हम आपको कुछ ऐसी बातें बताने जा रहे हैं जो आपके गुस्‍से को काबू में रखेंगी और रिश्‍ते खराब होने से बच जाएंगे।

पार्टनर के साथ हुई नोक-झोक में गलती से भी न करें ये 5 गलतियां, बना सकते हैं एक-दूसरे का दुश्‍मन...

एक-दूसरे पर चिल्‍लाएं नहीं

सबसे जरूरी काम ये है कि एक दूसरे पर चिल्‍लाने के बजाए आप खुद को शांत करें। आप अपने गुस्से को खुद पर हावी होने ना दें। अगर एक बार आपका क्रोध चढ़ जाएगा तो स्थिति बदतर होती चली जाएगी। आप का नेचर गुस्‍से वाला हो सकता है कि लेकिन आपको ये भी सोचना होगा कि क्‍या आप उससे गुस्‍सा हो रहे हैं जिससे आप इतना प्‍यार करते हैं? जब भी आप ऐसा सोचेंगे आपका गुस्‍सा खुद ब खुद शांत होने लगेगा। ऐसे में झगड़ा खत्म होने के बाद आपको बुरा महसूस नहीं होगा।

शरीर को कई तरह से प्रभावित करता है ब्रेन ट्यूमर, जानिए कैसे

आपके लिए वो कितना मायने रखते हैं?

मनोवैज्ञानिक भी मानते हैं कि रिश्‍तों में तकरार जरूरी है, मगर इसमें हद पार नहीं करनी चाहिए। सच्चा प्यार हमेशा बरकरार रहता है और आप दोनों जब शांत हो जाते हैं तो रिश्ता पहले की तरह हो जाता है। लड़ाई झगड़े के दौरान जो अहम बात आपको याद रखनी है वो ये है कि आप उस व्यक्ति से कितना ज्यादा प्यार करते हैं और वो आपके लिए कितने महत्वपूर्ण हैं।

बातों को इग्‍नोर न करें

कई ऐसे जोड़े हैं जो बातों को इग्‍नोर नहीं करनी चाहिए। आमतौर पर लोग नार्मल होने की कोशिश करते हैं और सोचते हैं कि मामला ठीक हो जाएगा। लेकिन ऐसा करना सही नहीं है। ये बहस तब तक बनी रहेगी जब तक आप इस पर बात नहीं करते और इसका कोई हल नहीं ढूंढ लेते हैं। कभी भी झगड़े से भागे नहीं बल्कि बात करके जानें कि आप दोनों की राय क्या है।

किसी बात को तूल देने से बचें

कई कपल सामान्य होने के लिए कई दिन ले लेते हैं। ये तरीका आप दोनों के लिए स्वस्थ नहीं है। अगर बहस हो रही है तो बहस करें और उसके बाद उसे वहीं खत्म कर दें और चैप्टर बंद कर दें। एक दूसरे के बीच में दूरी ना आने दें। आप बात को इतना ना खींचें कि उस पर आपका नियंत्रण ही ना रहे।

‘सानिया मिर्जा’ से जानें डिलीवरी के बाद भी फिट रहने का सीक्रेट

गड़े मुर्दे न उखाड़ें

बहस के दौरान आप कभी भी अपने पार्टनर के पुराने किसी मुद्दे को लाकर सामने ना रखें। आप दोनों के बीच कोई मुकाबला नहीं चल रहा है, जहां आपको जीतना ही है। दरअसल आप किसी समस्या के हल के लिए ये सब कर रहे हैं। अगर आप किसी पुराने मुद्दे को ले आएंगे तो हो सकता है आपके बीच का झगड़ा बढ़ जाए और आप अपने पार्टनर की फीलिंग्स को चोट पहुंचाएं।

=>
LIVE TV