प्रेरक-प्रसंग: स्मार्ट कर्मचारी के गुरु मंत्र

बादशाह ने वजीर के रिक्त पद पर नियुक्ति के लिए उम्मीदवार बुलवाए। परीक्षा से गुज़र कर तीन उम्मीदवार योग्य पाए गए।

स्मार्ट कर्मचारी के गुरु मंत्र

तीनों उम्मीदवारों से बादशाह ने एक-एक कर एक ही सवाल किया, ‘मान लो मेरी और तुम्हारी दाढ़ी में एक साथ आग लग जाए तो तुम क्या करोगे?’

पहले ने उत्तर दिया, “जहाँपनाह, पहले मैं आप की दाढ़ी की आग बुझाऊँगा।”

दूसरा ने कहा, “जहाँपनाह पहले मैं अपनी दाढ़ी की आग बुझाऊँगा।”

तीसरे उम्मीदवार ने उत्तर दिया, “जहाँपनाह, मैं एक हाथ से आपकी दाढ़ी और दूसरे हाथ से अपनी दाढ़ी की आग बुझाऊँगा।”

इस पर बादशाह ने कहा, “अपनी ज़रूरत को नज़रंदाज़ करने वाला नादान है। सिर्फ़ अपनी भलाई चाहने वाला स्वार्थी है और जो व्यक्तिगत जिम्मेदारी निभाते हुए दूसरे की भलाई करता है, वही बुद्धिमान है।”

इस तरह बादशाह ने वजीर के पद पर तीसरे उम्मीदवार की नियुक्ति कर दी।

=>
LIVE TV