प्राइवेट ऑफिस में सुपरवाइजर की नौकरी देकर महिला से करता रहा दुष्कर्म, मुकदमा हुआ दर्ज

कोतवाली में कालसी क्षेत्र की एक महिला ने सेलाकुई में प्राइवेट ऑफिस चलाने वाले व्यक्ति के खिलाफ दुष्कर्म, जान से मारने की धमकी और एससी एसटी एक्ट में मुकदमा दर्ज कराया है। महिला का आरोप है कि आरोपित ऑफिस संचालक ने उसे वर्ष 2018 में अपने यहां सुपरवाइजर पद पर नौकरी दी और तभी से उसके साथ दुष्कर्म करता रहा। पुलिस ने मामले में मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

कोतवाली में गुरुवार को दी तहरीर में कालसी क्षेत्र की युवती ने बताया कि वर्ष 2017 में लोकेंद्र राणा ने  उसे सेलाकुई की एक कंपनी में नौकरी पर लगवाया गया था। नवंबर 2018 में उसे कंपनी से हटाकर प्राइवेट ऑफिस में सुपरवाइजर की पोस्ट पर रख लिया, तभी से आरोपित उसके साथ लगातार दुष्कर्म करता आ रहा है। जब उसने विरोध किया तो जान से मारने की धमकी दी गई और जातिसूचक शब्द कहे गए। 

तहरीर के आधार पर विकासनगर कोतवाली में पुलिस ने आरोपित के खिलाफ दुष्कर्म, जान से मारने की धमकी और एससी एसटी अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया। मामले की विवेचना क्षेत्राधिकारी डीएस रावत की ओर से की जा रही है। कोतवाल राजीव रौथाण के अनुसार अभियोग में नामजद आरोपित की गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीम क्षेत्र में रवाना की गई है।

विषाक्त से महिला की मौत, जांच में जुटी पुलिस

कोतवाली क्षेत्र के भोजावाला में गाय की देखभाल करने गई एक महिला ने विषाक्त का सेवन कर लिया। हालत बिगड़ने पर उसे लेहमन अस्पताल ले जाया गया, जहां से चिकित्सकों ने रेफर कर दिया, महिला की हायर सेंटर ले जाते समय रास्ते में ही मौत हो गई। पुलिस ने शव को मोरचरी में रखवाया और शुक्रवार को पंचनामा व पोस्टमार्टम के साथ जांच शुरू कर दी।

बुलाकीवाला की नूर बस्ती निवासी शकुंतला देवी पत्नी मामचंद भोजावाला में सूरत सिंह के यहां गाय की देखभाल का कार्य करती थी। गुरुवार को रोज की तरह महिला सूरत सिंह के घर गाय की देखभाल करने गई थी, वहीं पर उसने कोई जहरीला पदार्थ खा लिया। महिला की हालत बिगड़ने लगी तो सूरत सिंह को इस संबंध में जानकारी हुई, उन्होंने महिला के घर वालों को सूचित करते हुए तत्काल उसे लेहमन अस्पताल पहुंचाया, जहां चिकित्सकों ने हालत गंभीर देख हायर सेंटर रेफर कर दिया। हायर सेंटर ले जाते समय महिला शकुंतला देवी ने दम तोड़ दिया। गुरुवार की रात में लेहमन अस्पताल हरबर्टपुर से चौकी पुलिस को महिला के बारे में सूचना दी गई। 

इस पर महिला उपनिरीक्षक निधि डबराल ने पहुंचकर जांच की। इसमें पता चला कि महिला का अपने पति से गृह क्लेश होता रहता था, जिस कारण वह परेशान रहती थी। पुलिस ने महिला के शव को लेहमन अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया। शुक्रवार को पंचनामा और पोस्टमार्टम की कार्रवाई के बाद शव स्वजनों को सौंप दिया। कोतवाल राजीव रौथाण के अनुसार मामले की विस्तृत जांच की जा रही है। 

=>
LIVE TV