प्रयागराज में अतीक अहमद के कई भवनों की कुर्की के बाद अब करीबी की बिल्डिंग पर चल रहा बुलडोजर

संगमनगरी प्रयागराज में माफिया डॉन अतीक अहमद के काले कारनामों पर योगी आदित्यनाथ सरकार की नजरें टेढ़ी हो गई हैं। प्रदेश में माफियाराज पर अब सरकार का कहर शुरू हो गया है। मऊ के साथ ही लखनऊ में माफिया डॉन विधायक मुख्तार अंसारी के साथ ही पूर्व सांसद अतीक अहमद के प्रयागराज में अवैध निमार्ण पर कुर्की का नोटिस चस्पा करने के बाद अब कार्रवाई शुरू कर दी गई हैं। इसकी चपेट में अतीक अहमद के करीबियों के भी अवैध निर्माण हैं।

प्रयागराज में अतीक अहमद के कई भवनों की कुर्की के बाद अब उनके करीबी की बिल्डिंग पर बुलडोजर चल रहा है। प्रयागराज के फूलपुर से समाजवादी पार्टी के सांसद रहे अतीक अहमद इन दिनों अहमदाबाद जेल में बंद हैं। इसके बाद भी उसके काले कारनामे जारी हैं। लखनऊ के प्रापर्टी डीलर के अपहरण तथा मारपीट के मामले में बाहुबली अतीक अहमद के खिलाफ सीबीआइ जांच चल रही है। इसी कारण अतीक अहमद को प्रयागराज के नैनी जेल से अहमदाबाद शिफ्ट किया गया है।

गुजरात की जेल में बंद बाहुबली पूर्व सांसद अतीक अहमद व प्रयागराज में उनके करीबियों पर शिकंजा और कस गया है। पिछले दिनों कुर्की की कार्रवाई के बाद अब संपत्तियां निशाने पर आ गई हैं। पुलिस के साथ यहां प्रशासनिक अधिकारियों ने शनिवार को हाईकोर्ट के पास अतीक अहमद के करीबी रिश्तेदार बिल्डिंग को प्रयागराज विकास प्राधिकरण की टीम के साथ गिरा दिया।

अधिकारियों का दावा है कि बिल्डिंग पर पूर्व सांसद अतीक के साढू इमरान का कब्जा था। यह निर्माण नजूल की जमीन पर अवैध ढंग से कराया गया था। आठ वर्ष पहले करीब 400 वर्ग गज में निर्माण हुआ था। इसके बाद नवाब यूसुफ रोड पर अतीक अहमद की बिल्डिंग को भी गिराने की योजना है, जो करीब 600 वर्ग गज में है। 

=>
LIVE TV