Sunday , April 23 2017

पीएम मोदी ने ‘मन की बात’ में पहली बार किया शादी का जिक्र

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदीनई दिल्ली| प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को 26वीं बार ‘मन की बात’ को देशवासियों से साझा किया। उन्होंने नोटबंदी के को सपोर्ट करने के लिए जनता का शुक्रिया अदा किया। इस दौरान उन्होंने सूरत की एक अनोखी शादी का जिक्र किया जिसमें नोट बंदी के चलते सिर्फ चाय परोसी गयी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने की मन की बात

पीएम मोदी ने कहा कि मैं चुनावों के दौरान चाय पर चर्चा करता था। मैंने कभी नहीं सोचा था कि यह मैरेज हॉल तक पहुंच जाएगा। सूरत में एक जोड़े ने चाय पिलाकर मात्र 500 रुपए में शादी की।

इसके साथ ही पीएम देशभर के युवाओं से समाज को कैशलेस बनाने के लिए सहयोग करने की अपील की है। मोदी ने कहा कि जो लोग अपने पैसों को सफेद करने के लिए गरीबों का सहारा ले रहे हैं, उन्हें इसकी सजा मिलेगी। पीएम ने सभी गरीबों को भी झांसे में नहीं आने की भी सलाह दी है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि उदाहरण के तौर पर महाराष्ट्र के अकोला जिले में राष्ट्रीय राजमार्ग-6 पर एक रेस्तरां ने एक बोर्ड लगाया है, जिसमें कहा गया है कि जिन ग्राहकों के पास नए नोट नहीं हैं, वे भी वहां खा सकते हैं और बाद में जब भी वहां से फिर गुजरें, तब पैसे दे सकते हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि नकदी की कमी के चलते गुजरात के सूरत की एक नवविवाहिता ने अपनी शादी में मेहमानों को भव्य भोज की जगह चाय पिलाई।

उसके अलावा मोदी ने असम के एक छोटे से गांव ढेकियाजुली में चाय के बागान में काम करने वाले कर्मचारियों का उदाहरण दिया, जिन्हें साप्ताहिक वेतन मिलता है।

प्रधानमंत्री ने कहा, “जब उन्हें 2000 का नया नोट मिला तो कुछ महिलाओं ने उस एक नोट से ही बाजार जाकर कुछ चीजें खरीदी। खुले पैसों की कोई समस्या नहीं थी, क्योंकि उन्होंने साथ मिलकर खरीदारी की थी।”

प्रधानमंत्री ने कहा कि नोटबंदी के बाद नगर निगमों को लंबे समय से लंबित अपनी बकाया कर राशि मिल गई है।

मोदी ने कहा, “नगर निगमों ने एक सप्ताह में 13,000 करोड़ रुपये की कमाई की है। इस राशि को उपेक्षित क्षेत्रों के विकास में खर्च किया जाएगा।”

LIVE TV