प्रगट हुए हनुमानजी, बंदर ने बचाई 30 लोगों की जान

monkey_565d379d98540एजेंसी/ बेंगलुरु : कर्नाटक के एक गाँव में एक बन्दर द्वारा 30 लोगों की जान बचाने का मामला सामने आया है. लोगों के जान बचने की घटना बन्दर द्वारा की गई पेशाब की टाइमिंग से जुडी हुई है. हुआ यूँ कि बीते शनिवार को श्री रंगापट्टनम में कावेरी नदी के तट पर एक धार्मिक अनुष्ठान के लिए 30 लोग गये थे. स्नान करने के बाद वे लोग एक आम के पेड़ के नीचे बैठे थे. तभी पेड़ पर बैठे बन्दर ने नीचे बैठे लोगों पर पेशाब कर दिया.

गुस्सा कर बन्दर को लानत भेजते हुए लोग वहां से अलग हट गये. सिर्फ तीन लोग जो पेड़ के दूसरी ओर थे वहीँ बैठे रहे. अचानक आम का वह विशाल पेड़ गिर पड़ा और पेड़ के नीचे बैठे सदस्य दब गये. इनमें से एक रत्नामा (40) की मौके पर ही मौत हो गई जबकि दो अन्य दक्षिणी (25)और पुनुइता (10) घायल हो गये.

हालांकि एक व्यक्ति की मौत से सभी दुखी थे, लेकिन पेशाब करने वाले बन्दर को पहले भला-बुरा कहने वाले अब जान बचने पर उसका शुक्रिया अदा कर रहे थे.

=>
LIVE TV