पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, STF ने मुठभेड़ में ढेर किया एक लाख का इनामी तौकीर

प्रतापगढ़ में बृहस्पतिवार को राज्य पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) के साथ मुठभेड़ में एक लाख रुपये का इनामी बदमाश मारा गया। मारे गये बदमाश के पिता ने मुठभेड़ के एसटीएफ के दावे को गलत बताते हुए कहा कि उनके बेटे की सुनियोजित तरीके से हत्या की गयी है।

प्रयागराज क्षेत्र के पुलिस महानिरीक्षक मोहित अग्रवाल ने संवाददाताओं को बताया कि एसटीएफ लखनऊ के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अभिषेक सिंह ने सूचना मिलने पर आज सुबह प्रयागराज आ रहे एक लाख रुपये के इनामी बदमाश तौकीर और उसके एक साथी को चिलबिला कोट—अमेठी मार्ग पर पकड़ने की कोशिश की तो दोनों ने बल पर गोलियां चलायीं।

उन्होंने बताया कि जवाबी कार्रवाई में गोली लगने से तौकीर गम्भीर रूप से घायल हो गया। उसके जिला अस्पताल ले जाया गया जहां, चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। तौकीर का साथी मौके से भाग गया।

अग्रवाल ने बताया कि एसटीएफ ने मौके से 30 बोर की एक कारबाइन, 32 बोर की दो पिस्टल, मोबाइल फोन और मोटरसाइकिल बरामद की है। उन्होंने बताया कि एक लाख रुपये के इनामी अपराधी तौकीर पर मार्बल व्यवसायी राजेश सिंह समेत छह लोगों की हत्या, दो बैंक शाखाओं में लूट, रंगदारी समेत कई आरोपों में मुकदमे दर्ज थे।

इस बीच, तौकीर के पिता अब्दुल हफीज ने एसटीएफ के दावे को गलत बताते हुए अपने बेटे की बंधक बना कर हत्या किये जाने का आरोप लगाया है।

जगराते के शेर को असली शेर समझ मच गया इलाके में हड़कंप, पुलिस ने कराया शांत !…

आज़ाद नगर भुलियापुर के निवासी हफीज ने एसटीएफ पर आरोप लगाया कि उसके बेटे को मध्य प्रदेश स्थित भोपाल से चाँद रात के दिन चार मई को बंधक बना कर प्रतापगढ़ लाया गया और चिलबिला कोट के पास फर्जी मुठभेड़ दिखा कर उसकी हत्या कर दी गई। हफीज ने बताया कि उन्होंने उच्चाधिकारियों से इसकी शिकायत की है। उन्होंने कहा कि वह इसके खिलाफ कानूनी लड़ाई लड़ेंगे।

=>
LIVE TV