पुरुष ही नहीं, महिलाएं भी तोड़ देती हैं ‘सेक्स’ में सारी हदें

article-2334832-1A1DC810000005DC-782_634x421एजेंसी/मांट्रियल। सेक्स की तीव्र इच्छा और कामुक यौन कल्पनाओं को हम असामान्य यौन व्यवहार या आवेग समझते हैं, लेकिन वास्तव में लोगों के बीच यह काफी आम है, जिसमें महिलाएं भी शामिल हैं। एक नए शोध से यह जानकारी मिली है। सामान्य तौर पर यह सच है कि पुरुष सेक्स में सारी हदें तोड़ देने के प्रति ज्यादा इच्छुक होते हैं, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है महिलाएं अत्यधिक कामुक व्यवहार या यौन परिकल्पनाओं में रुचि नहीं लेती।

सेक्स की तीव्र इच्छा महिलाओं में भी

डू क्यूबेक ए ट्रोइस-रिविरिस विश्वविद्यालय के मनोविज्ञान विभाग के प्रोफेसर क्रिस्टीन जोयाल का कहना है, “सच यह है कि महिलाओं ने शोध के दौरान हमें बताया कि उनकी विविध यौन रुचियां हैं और वे अपने यौन जीवन से बेइंतहा संतुष्ट हैं। इसलिए सेक्स में सारी हदें तोड़ना कोई असामान्य व्यवहार नहीं है।” लोगों की यौन रुचियों को दो श्रेणियों में बांटा जाता है एक सामान्य जिसे नॉर्मोफिलिक कहते हैं और दूसरा विलक्षण जिसे पैराफिलिक कहा जाता है। जोयल कहती है, “इस सर्वेक्षण से हमें पता चला है कि वास्तविकता में पैराफिलिक व्यवहार काफी सामान्य है।

शोध में सामने आया

अत: हमें सामान्य यौन व्यवहार का वर्गीकरण और उसके लिए कानून बनाने से पहले समझना होगा कि कई पैराफिलिक रूझान लोगों में काफी आम है और यह न सिर्फ उनकी यौन परिकल्पनाओं में लक्षित होती है बल्कि उनकी इच्छा और व्यवहार में भी यह शामिल है। यह शोध इंस्टीट्यूट फिलिप्पे-पिनल जे मांट्रियल और इंस्टीट्यूट यूनिवर्सिटायरे एन सांते मेंटाले डे मांट्रियल की जोयल और जूली कारपेंटियर ने मिलकर किया, जो मांट्रियल विश्वविद्यालय से संबंद्ध है। इसमें क्यूबेक के 1,040 निवासियों ने भाग लिया।

=>
LIVE TV