पहले चरण के मतदान का गुणा भाग करने में जुटी कांग्रेस

एजेन्सी/jorhat-assam_landscape_1459801227असम और पश्चिम बंगाल में सोमवार को क्रमश: 65 और 18 सीटों के लिए मतदान हुआ। असम में पहले चरण की जिन 65 सीटों पर मतदान वहां हुआ है, उनमें 50 से अधिक सीटें कांग्रेस के पास थी। ऐसे में मतदान समाप्त होते ही पार्टी ने अंदरूनी गुणा-भाग तेज कर दिया है।

पार्टी के वरिष्ठ नेताओं का मानना है कि राज्य में इस बार कांटे की टक्कर है। अंदरखाने में पार्टी के भीतर यही चर्चा है कि प्रथम चरण की इन 65 सीटों में से यदि कांग्रेस 30 सीट तक जीतने में सफल रही तो राज्य में तरुण गोगोई सरकार की वापसी तय है। लेकिन यदि सीटों की संख्या इससे कम आई तो आगे की राह मुश्किल हो सकती है।

पार्टी में एक वर्ग का मानना है कि बदरुद्दीन अजमल ने कांग्रेस का नुकसान किया है, जबकि एक बड़ा तबका यह मानकर चल रहा है कि अजमल की स्थिति बिहार में असददुदीन ओवैसी की पार्टी जैसी हो गई है। अजमल के कांग्रेस के साथ न आने से वोटों का धार्मिक आधार पर ध्रुवीकरण नहीं हो पाया और इसका कांग्रेस को लाभ मिलेगा। राज्य में दूसरे चरण का मतदान 11 अप्रैल को होना है। जबकि मतगणना 19 मई को होगी। दूसरे चरण में होने वाले मतदान में अधिकतर सीटों पर विरोधियों को सफलता मिली थी।

=>
LIVE TV