Monday , August 21 2017

मोदी सरकार ने छुपाया राज, नोटबंदी से निपटने में चीन कर रहा मदद

मोदी सरकार ने छुपाया राज, नोटबंदी से निपटने में चीन कर रहा मदददिल्ली। 500-1000 रुपए की नोटबंदी से निपटने के लिए मोदी सरकार को अब चीन की मदद लेनी पड़ रही है। दरअसल, देश के दो लाख एटीएम 500-2000 के नए नोटों के मुताबिक सेट नहीं किए जा सके हैं। सिर्फ 23 हजार एटीएम (आटोमेटेड टेलर मशीन) में ही नई व्यवस्था बनाई जा सकी है।

नोटबंदी पर नया खुलासा

इस मुश्किल के पीछे वजह यह है कि भारत में लगेे एटीएम में वो पार्ट नहीं, जिनसे मशीन की सेटिंग बदली जा सकें। इन पार्ट को चीन से मंगाना पड़ रहा है। इकाेनॉमिक टाइम्स की रिपोर्ट में यह खुलासा हुआ है। रिपोर्ट के मुताबिक, मशीनों में नए पार्ट लगाए जाने हैं, जिनकी कमी के चलते दिक्‍कत आ रही है। चीन से खरीद कर पार्ट्स भारत लाए जा रहे हैं। इन पार्ट को बड़ी मात्रा में मंगाने का ऑर्डर दे दिया गया है।

इस बारे में एसबीआई के एक अधिकारी ने बताया, ‘दरअसल पुराने एटीएम री-प्रोग्राम नहीं हो पाए हैं। इसी वजह से एटीएम 100 के नोट बड़ी मात्रा में देे रहा है। चीन से नए पार्ट आने के बाद धीरे-धीरे सभी एटीएम 500 और 2000 के नए नोट देने लगेंगे।’ लक्ष्‍य है कि अगले सप्ताह तक कम से कम 50 हजार मशीनों में नई सेटिंग शुरू कर दी जाए।

एक तरफ सरकार जहां एटीएम में नए नोटों के लिए चीन की मदद का इंतजार कर रही है। वहींं, स्वदेशी रूपे कार्ड चलाने वालों के मजे हैं। इनका पेमेंट गेटवे अच्छा काम कर रहा है। एक अधिकारी के मुताबिक, 35 लाख ट्रांजेक्‍शन किए जा चुके हैं, जिनमें से 25 लाख एटीएम में किए गए हैं और करीब छह लाख विभिन्‍न प्‍वाइंट ऑफ सेल मशीनों के जरिए भुगतान किया गया है।

=>
=>
LIVE TV