Thursday , June 29 2017

नोट बैन के खिलाफ वाममोर्चे का सोमवार को बंद का आह्वान

नोटबंदी के खिलाफतिरुवनंतपुरम: केरल में सत्तारूढ़ वाम मोर्चे ने राज्य के सहकारी बैंकों को हिला कर रख देने वाली नोटबंदी के खिलाफ सोमवार को बंद का आह्वान किया है। वाम लोकतांत्रिक मोर्चा (एलडीएफ) के संयोजक वाइकोम विस्वान ने एक बयान में यह घोषणा की।

बयान के मुताबिक, “राज्यभर में सुबह से शाम तक के लिए बंद का आयोजन किया जाएगा।”

बयान में साथ ही कहा गया है कि बंद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘खराब व्यवहार’ के विरोध में भी किया जा रहा है।

कहा जा रहा है कि मोदी ने केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन के नेतृत्व में गए एक सर्वदलीय प्रतिनिधिमंडल से मिलने से भी इनकार कर दिया था, जिसमें वे उन्हें सहकारिता क्षेत्र को हो रही समस्याओं के बारे में बताना चाहते थे।

केंद्र सरकार ने आठ नवंबर को 500 और 1,000 रुपये के नोटों को अमान्य घोषित कर दिया था।

उसके दो दिन बाद 1,600 प्राथमिक सहकारी समितियों से पुराने नोट स्वीकार करने या बदलने की इजाजत वापस ले ली गई थी, जिसके बाद केरल में व्यापक असंतोष पैदा हो गया।

केरल में सहकारी बैंकिंग सेक्टर तीन स्तरीय प्रणाली है। इसमें 14 जिला बैंकों से जुड़े 1600 प्राथमिक सहकारी बैंक है, जो शीर्ष केरल राज्य सहकारी बैंक (केएससीबी) से जुड़े हैं।

केरल के सहकारिता मंत्री ए.सी. मोइदीन के अनुसार सहकारी बैंकों में करीब 1.27 लाख करोड़ रुपये जमा हैं।

LIVE TV