स्वस्थ रहने की सबसे अच्छी दवा है नींद, जानिए कैसे

क्‍या आपको रात में अच्‍छी नींद नहीं आती हैं और नींद पूरी ना होने के कारण आपको पूरा दिन अजीब या घबराहट महसूस होती है। तो इस विश्‍व स्‍लीप डे पर हम सभी को मिलकर हेल्‍दी लाइफ स्‍टाइल के लिए एक अच्‍छी नींद पैटर्न का संकल्‍प लेना होगा, क्‍योंकि इससे हमारी पूरी हेल्‍थ पर बुरा असर पड़ सकता है।

स्वस्थ रहने की सबसे अच्छी दवा है नींद, जानिए कैसे
विश्व स्वास्थ्य संगठन की रिपोर्ट के अनुसार, नींद की कमी किसी भी व्यक्ति के हेल्‍थ पर हानिकारक प्रभाव डाल सकती है। इससे नींद न आना, थकान और हाई ब्‍लडप्रेशर जैसे शारीरिक परेशानियां के साथ-साथ मानसिक परेशानियां जैसे याद्दाश्‍त कमजोर, ध्‍यान भटकना भी हो सकती है।

लांच हुई भारत की सबसे सस्ती HD एलईडी टीवी, देखें इसके सबसे खास फीचर्स

ऐसे में ऑफिस और लाइफ के अन्‍य पहलुओं में दुर्घटनाओं की संभावना बढ़ सकती है। जी हां लगातार भरपूर नींद ना लेने या लगातार जागने से आप नींद से जुड़ी कई तरह की बीमारियों का शिकार हो सकती है।

सोने के गलत तरीके या बिस्‍तर के आरामदायक ना होने से भी हमारी नींद खराब होती है। इसलिए सही नींद के लिए और हेल्‍दी दिन के लिए हमें सही पोश्‍चर में सोना चाहिए और सही तरीके के गद्दे और तकिये का चुनाव करना चाहिए। और आपके बिस्‍तर का धूल के कण, बैक्‍ट‍ीरिया और नमी से मुक्‍त होना बेहद जरूरी है।

संपूर्ण हेल्‍थ में बैलेंस बनाए रखने के लिए पर्याप्‍त मात्रा में नींद लेना बेहद जरूरी है। यह तनाव से निपटने में मदद करने के साथ इम्‍यूनिटी को बनाए रखने में मदद करता है। आइए भरपूर नींद सोने के फायदों के बारे में विस्‍तार से जानें।

मोटापे से बचती है भरपूर नींद

अगर आप मोटापे से बचना चाहती हैं, तो पूरी नींद लीजिए। नींद न केवल आपके मानसिक स्वास्थ्‍य को दुरुस्त रखती है, बल्कि इससे आपकी  बॉडी भी फिट एंड फाइन रहती है। अमेरिका के स्टोनी ब्रुक यूनिवर्सिटी स्कूल ऑफ मेडीसन में प्रीवेन्टिव मेडिसन के एसोसिएट प्रोफेसर लॉरेन हेल के नेतृत्व में किये गये एक अध्ययन से यह बात सामने आयी है कि नींद और मोटापे का आपसी संबंध है।

स्किन करती है ग्‍लो

भरपूर नींद नहीं लेने से आपकी हेल्‍थ के साथ-साथ स्किन पर भी असर पड़ता है। अगर आप भरपूर नींद नहीं लेती है तो आपकी स्किन हेल्‍दी नहीं रहेगी बल्कि वह ड्राई हो जाएगी और उसमें लचीलापन नही बल्कि कड़ापन रहेगा। नींद का स्किन पर पड़ने वाले प्रभाव को लेकर हाल ही में एक रिसर्च हुई। वेबसाइट ‘हफिंगटनपोस्ट डॉट कॉम’ के अनुसार, सौंदर्य प्रसाधन ब्रांड इडंस्‍ट्री लॉडर और यूनिवर्सिटी हॉस्पीटल केस मेडिकल सेंटर ने मिलकर यह रिसर्च की। यह 30 से 49 साल की उम्र वाली 60 महिलाओं पर किया गया। इसमें उन महिलाओं की नींद के कारण उनकी स्किन पर पड़ने वाले प्रभावों का विश्‍लेषण किया गया।

हार्ट को रखता है हेल्‍दी

हार्ट अटैक और स्‍ट्रोक के होने की संभावना सबसे ज्‍यादा सुबह के समय होती है, जो ब्‍लड वेसल्‍स के नींद के संपर्क के आने के तरीके के कारण होता है। नींद की कमी ब्‍लड प्रेशर और कोलेस्‍ट्रॉल के बिगड़ने के साथ जुड़ी हुई है, जो हार्ट डिजीज और स्‍ट्रोक का जोखिम कारक है। अगर आप हर रात 7 से 9 घंटे की नींद लेती हैं तो आपका हार्ट हेल्‍दी रहेगा।

इस शुभ संयोग में सात सालों के बाद मनेगी होली , जानिए होलिका दहन का शुभ समय

नींद तनाव को करती है कम

जब आपकी बॉडी में नींद की कमी होती है, तो यह तनाव की स्थिति में चला जाता है। बॉडी के कामों को हाई अलर्ट पर रखा जाता है, जिससे हाई ब्‍लप्रेशर और तनाव हार्मोन का उत्‍पादन होता है। हाई ब्लड प्रेशर से हार्ट अटैक और स्ट्रोक का खतरा बढ़ जाता है और स्ट्रेस हॉर्मोन को कंट्रोल करना मुश्किल हो जाता है। तनाव के प्रभावों का मुकाबला करने और अच्‍छी नींद लेने की कोशिश करें।

अब तो आपको समझ में आ गया होगा कि हमारे लिए अच्‍छी नींद क्‍यों जरूरी है। तो आज वर्ल्‍ड स्‍लीप डे के मौके पर रोजाना अच्‍छी नींद लेना का संकल्‍प लें।

=>
LIVE TV