Tuesday , May 22 2018

निर्मला और सुषमा ने संभाली चीनी कमान, मोदी से पहले तैयार करेंगी ‘स्पेशल इफेक्ट’

बीजिंग। भारतीय रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने मंगलवार को यहां शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) के रक्षा मंत्रियों की बैठक में भाग लिया। भारतीय रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ने ट्वीट किया, “निर्मला सीतारमण ने चीन के बीजिंग में शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) के रक्षामंत्रियों की बैठक में भाग लिया।”

निर्मला यहां सोमवार को पहुंचीं। यात्रा के दौरान उनका अपने चीनी समकक्ष से मुलाकात तय है।

अमेरिका की चेतावनी… हल्के में न ले उत्तर कोरिया, छोटी सी गलती पड़ सकती है भारी

रक्षा मंत्रियों की बैठक

निर्मला की यात्रा के दौरान यहां भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज भी हैं, जिन्होंने एससीओ के विदेश मंत्रियों की बैठक में मंगलवार को भाग लिया।

एससीओ एक यूरेशियाई अंतर-सरकारी संगठन हैं, जिसका निर्माण 2001 में शंघाई में कजाकिस्तान, चीन, किर्गिस्तान, रूस व उज्बेकिस्तान द्वारा किया गया।

वड़ोदरा की पॉवर कंपनी पर ईडी का छापा, ग्यारह सौ करोड़ की संपत्ति जब्त

भारत के साथ पाकिस्तान को बीते साल जून में कजाकिस्तान के अस्ताना में एससीओ शिखर सम्मेलन में पूर्ण सदस्यता का दर्जा प्रदान किया गया।

भारत-चीन संबंध बीते साल डोकलाम में 73 दिनों के सैन्य गतिरोध से बुरी तरह प्रभावित हुए। दोनों पक्ष अब द्विपक्षीय आदान-प्रदान के कदम उठाकर अपने संबंधों को बहाल करने की कोशिश कर रहे हैं।

चीन द्वारा भारत के परमाणु आपूतिकर्ता समूह (एनएसजी) में प्रवेश के विरोध व संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तान स्थित जैश-ए-मोहम्मद आतंकी समूह के प्रमुख मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी की सूची में डालने से रोकने को लेकर भारत की नाराजगी बढ़ी है।

इसके अलावा भारत को चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारे (सीपीईसी) को लेकर आपत्ति है, जो पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर से गुजरता है, जिस पर भारत दावा करता है।

निर्मला सीतारमण व सुषमा स्वराज की यह यात्रा चीन में 27 व 28 अप्रैल को भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के बीच होने वाली अनौपचारिक बैठक से पहले हो रही है।

देखें वीडियो :-

=>
LIVE TV