प्रियंका गांधी ने नियमों के अनुसार चुकाया किराया

priyanka-gandhi_563442232aa1dएजेंसी/नई दिल्ली : कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की लड़की प्रियंका गांधी के आवास को लेकर विवाद हो गया हैै। ऐसे में प्रियंका गांधी ने अपनी ओर से पहली बार सफाई दी है। प्रियंका गांधी ने अपनी सफाई में कहा कि एसपीजी ने उन्हें दिल्ली के लुटियन्स जोन के सरकारी आवास में निवास करने के लिए कहा था। मगर वे एक छोटे बंगले में जाना चाहती थीं। उनका कहना था कि वे नियम के अनुसार बंगले का किराया जमा करवाती आ रही हैं।

उन्होंने इसके किराए को चुकाने में नियमों की अनदेखी नहीं की है। दरअसल जब बंगले का किराया बढ़ गया तो प्रियंका ने उसे कम करने की मांग की तो दूसरी ओर वह वैकल्पिक तौर पर छोटे बंगले में रहने की बात करती रहीं। मगर एसपीजी ने सुरक्षा का हवाला देते हुए उन्हें सरकारी बंगले में रहने को कहा। दूसरी ओर बंगले का किराया भी बढ़ गया था। प्रियंका ने इसके बाद पत्र लिखकर बंगले का किराया कम करवा दिया था।

इस मामले में सूचना के अधिकार के माध्यम से मिली जानकारी के अनुसार प्रियंका ने 7 मई वर्ष 2002 को पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को पत्र लिखा था। उन्होंने बंगले का किराया बढ़ने और यह किराया न चुका पाने को लेकर जानकारी दी। इसके बाद बंगले का किराया 8888 रूपए कर दिया गया था।

प्रियंका का कहना था कि उसने अपने बंगले का किराया एडवांस में किया था मगर किराया बढ़ने से वह परेशान थी। जिसे लेकर उसने पूर्व प्रधानमंत्री अटल जी को जानकारी दी थी। उल्लेखनीय है कि प्रियंका गांधी उन लोगों में से हैं जिन्हें एसपीजी सुरक्षा प्राप्त है। उन्हें 1996 से यह सुरक्षा प्राप्त है। 

=>
LIVE TV