नल पर हाथ धोने को कहा तो बालिका को मारी थी गोली, इलाज के दौरान हुई मौत

स्वरूपरानी प्रयागराज में इलाज के दौरान गोली से घायल बालिका लाली पांडेय पुत्री प्रेम चंद्र पांडेय की आठ दिन बाद बुधवार को दोपहर में मौत हो गई। मौत की खबर घर पर पहुंचने पर  स्वजन रोने बिलखने लगे मौत की खबर से गांव मे तनाव का माहौल है। लाली पाडेय को 20 मई को पानी पीने व हाथ होने की बात को लेकर मुस्लिम समुदाय के युवक ने गोली मारकर घायल कर दिया था इलाज के दौरान आज उसकी मौत हो गई। पुलिस इस मामले में नामजद आरोपितों को गिरफतार कर जेल भेज चुकी है। एक आरोपित फरार है।

20 मई को हुई थी सनसनीखेज वारदात

रानीगंज थाना क्षेत्र के मुन्नी का पूरा गांव के प्रेमचंद्र पांडेय की आठ साल की बेटी लाली घर के बाहर नल पर नहा रही थी। तभी गांव के ही दो युवक पहुंचे और हाथ धोने के लिए कहा। इस पर बालिका ने उन्हें नहा लेने के बाद हाथ धोने को कहा तो वे आग बबूला हो गए और तमंचा निकालकर लाली को गोली मार दी। गोली लाली के पेट में लगी और लहूलुहान होकर गिर पड़ी। फायरिंग की आवाज सुनकर घर के लोग बाहर निकले तो लाली लहूलुहान तड़प रही थी।

गांव के ही दो युवकों का नाम आया था सामने

जख्मी बालिका को सीएचसी से जिला अस्पताल ले जाया गया। अस्‍पताल में बालिका की हालत नाजुक बनी हुई है। लाली की मां किरण पांडेय का कहना है कि उनकी बेटी लाली नल पर नहा रही थी। तभी दूसरे समुदाय के दो युवक पहुंचे। दोनों नल पर हाथ धोने लगे तो बालिका ने उन्हें नहा लेने के बाद हाथ धोने के लिए कहा। इस पर युवकों ने बालिका को गोली मार दी थी । सीओ का कहना है कि बच्ची नहा रही थी। आरोपित हाथ धोने पहुंचे थे। बच्ची ने नहाने के बाद हाथ धोने के लिए कहा तो इस बात से नाराज होकर गोली मार दी थी। मामले में नामजद दो आरोपितों को जेल भेज दिया गया है। एक आरोपित फरार है उसकी तलाश की जा रही है।

=>
LIVE TV