तहसील दिवस में 91 प्रार्थना पत्रो में से महज 6 का हुआ निस्तारण

मऊ :उत्तर प्रदेष सरकार की शीर्ष प्राथमिकता तहसील दिवसों के माध्यम से जन समस्याओं के त्वरित निस्तारण के क्रम में मुख्य विकास अधिकारी गिरिजेष कुमार त्यागी की अध्यक्षता में मधुबन तहसील दिवस सम्पन्न हुआ। मुख्य विकास अधिकारी द्वारा तहसील दिवस में प्राप्त शिकायतों की समीक्षा करते हुए उपस्थित अधिकारियों को निर्देश दिये कि तहसील दिवस में प्राप्त आवेदन पत्रों का निस्तारण गुणवत्तापूर्ण एवं समयबद्धता के साथ करें, इसमें किसी प्रकार की लापरवाही क्षम्य नहीं होगी। मुख्य विकास अधिकारी ने अधिकारियों से कहा की दुर दराज गाॅवों से जनता बड़ी उम्मीद के साथ तहसील दिवस में अपनी समस्या लेकर आती है इस लिए उनकी समस्याओं का निस्तारण सर्वोच्य प्राथमिकता पर करें। मुख्य विकास अधिकारी द्वारा अधिकारियों को निर्देष दिये गये कि अधिकारी षिकायत के निस्तारण के बाद षिकायतकर्ता को निस्तारण के बारे में अवष्य सुचित करें। उक्त अवसर पर 91 आवेदन पत्र प्राप्त हुए। जिनमें से 06 का मौके पर निस्तारण कर दिया गया षेष अन्य आवेदन पत्रों को जल्द निस्तारण करने के निर्देष दिये गय। सबसे ज्यादा आवेदन पत्र पानी से संबंधित इण्डिया मार्का हैण्डपम्प रिबोर, मरम्मत और स्थापना के संबंध में आये। तहसील दिवस में स्वास्थ्य विभाग द्वारा दिव्यांग जनों का कुल 08 स्वास्थ्य प्रमाण पत्र जारी किया गया। स्वास्थ्य विभाग के टीम में डा0 आर0आर0चैहान ई0एन0टी0रोग विषेषज्ञ, ए0ओ0 धर्मेष कुमार राय उपस्थित रहे।
उक्त अवसर पर पुलिस अधीक्षक षिव हरी मीना, जिला कार्यक्रम अधिकारी सुश्री जयश्री, उपजिलाधिकारी मधुबन, जिला पंचायत राज अधिकारी प्रदीप कुमार, तहसीलदार सहित जनपदीय स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

=>
LIVE TV