डॉक्टरों का दिखा हैवानियत का चेहरा, मरीज को बनाया बंधक

रिपोर्ट:-नीरज श्रीवास्तव/लखनऊ

कृष्णा नगर स्थित अपोलो हॉस्पिटल एक नामचीन अस्पताल है लेकिन नामचीन अस्पताल होने के साथ-साथ यहां पर आए दिन अस्पताल का खेल सड़क पर आ जाता है.

बताते चलें संदीप सिंह अपनी पत्नी का कॉस्मेटिक सर्जरी कराने के लिए अपोलो एस्टीमेट पूछे जाने पर 75000 का बजट बताया गया संदीप ने अपनी पत्नी कविता को एडमिट करा दिया.

डॉक्टर

सर्जरी हो जाने के बाद जब संदीप ने पेमेंट काबिल पूछा तब अस्पताल प्रशासन द्वारा 270000 का बताया गया. जिस पर संदीप ने विरोध किया विरोध का परिणाम स्वरूप अस्पताल प्रशासन में पत्नी व उसके दो बच्चों को बंधक बना लिया कि जब तक भुगतान नहीं करोगे यहां से जाने नहीं दिया जाएगा किसी तरह संदीप ने बाहर संदेश भिजवाया.

उसके बाद संदेश प्रसारित होने पर मीडिया कवरेज करने पहुंची अस्पताल के प्रशासनिक गुंडों ने पत्रकारों के साथ हाथापाई की और बदतमीजी की और धमकी दी भाग जाओ यहां से जो करना है कर लो और मोबाइल छीन कर फेंक दिया.

न्यूज़ीलैंड में टेस्ट सीरीज जीतना है बड़ी चुनौती- आशीष नेहरा

इसके बाद पत्रकारों ने लिखित तहरीर पुलिस चौकी इंचार्ज को दी लगभग 2 घंटे वहां पर पत्रकारों के सूचना देने के बाद भी एसीपी कृष्णा नगर कृष्णा नगर मौके पर नहीं पहुंचे कहीं न कहीं अपोलो अस्पताल की गुंडे एक बार फिर विजई होती प्रतीत नजर आती है और कृष्ण नगर पुलिस एक बार फिर संदेह के घेरे में घिरती नजर आ रही है।

=>
LIVE TV