ट्रेनों को लेकर रेलवे व जिला प्रशासन ने स्टेशन आउटर पर की सख्ती, बढ़ाई पहरेदारी

कानपुर से लखनऊ या उन्नाव के रास्ते रायबरेली जा रही श्रमिक स्पेशल ट्रेनों को लेकर रेलवे व जिला प्रशासन ने स्टेशन आउटर पर सख्ती की है। ट्रेनों के पास होने से करीब 10 मिनट पहले आरपीएफ और इलाकाई थाने का पुलिस फोर्स स्टेशन क्रॉसिग पर पहुंच रहा है। ट्रेन रुकने पर कोच में बैठे श्रमिक-कामगारों को नीचे नहीं उतरने दिया जा रहा। जीआरपी ने भी प्लेटफार्म पर सिपाहियों की मुस्तैदी को बढ़ाया है।

23 मई से श्रमिक स्पेशल ट्रेनों का दबाव उन्नाव स्टेशन पर कम हुआ है। लेकिन, पास होती ट्रेनें सिग्नल नहीं मिलने से जहां-तहां ठहर जा रही। स्टेशन होने से भूख प्यास मिटाने के लिए श्रमिक-कामगार कोच से उतर जा रहे। प्लेटफार्म पर उतरने वाली यह भीड़ सुविधा न मिलने पर गुस्सा जाहिर कर रही है। इससे निपटने के लिए जिला प्रशासन ने कोतवाली व थाना पुलिस को सजग किया है। एसपी जीआरपी सौमित्र यादव ने भी थाना प्रभारी को निर्देश दिए हैं कि स्टेशन व आउटर के बीच चौकसी बढ़ा दी जाएं। जिसे देखते हुए सिपाहियों की निगरानी में ट्रेनों को अब पास कराया जा रहा। एसओ जीआरपी संतोष कुमार राय ने बताया कि प्रत्येक प्लेटफार्म पर सिपाही तैनात किए गए हैं। दिनभर निकलने वाली ट्रेनों पर नजर रखी जा रही है।

=>
LIVE TV