जानिए देसी और पोल्ट्री में से कौन सा अंडा आपकी सेहत के लिए है बेस्ट

आपने ये तो सुना ही होगा कि ‘संडे हो या मंडे, सर्दी हो या गर्मी रोज खाओ अंडे’. अंडा हमारी हेल्‍थ के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है। अंडा एक सुपर फूड है. इसे खाने से आपको प्रोटीन, कैल्‍शियम और ओमेगा 3 फैटी एसिड मिलता है. जहां प्रोटीन हमारे शरीर की मांसपेशियों को मजबूत बनाता है वहीं कैल्‍शियम से दांतों और हड्डियों को मजबूती मिलती है. लेकिन जब भी हम बाजार में अंडे खरीदने जाते हैं तो इस बात को लेकर अक्‍सर सोच में पड़ जाते हैं कि ब्राउन या व्‍हाइट कौन सा अंडा खरीदना चाहिए और कौन सा हमारी हेल्‍थ के लिए बेस्‍ट है?

जानिए देसी और पोल्ट्री अंडों में से कौन सा आपकी सेहत के लिए है बेस्ट

लेकिन आपको परेशान होने की कोई जरूरत नही है क्योंकि हम इस भ्रम को हल कर सकते हैं।आइए जानें खाने में कौन-सा अंडा है सेहत के लिए सही और फायदेमंद।

ऐसा क्या हुआ कि प्रियंका को देखकर रोने लग गए निक जोनस?

अंडा व्हाइट हो या ब्राउन दोनों ही तरह के अंडों पर काफी बार शोध करने पर भी कोई खास अंतर नहीं पता चला है। यूं तो दोनों ही प्रकार के अंडों में पैसों के अलावा बहुत ज्‍यादा अंतर नहीं है। दोनों के फायदे, गुणवत्ता, आकार सभी कुछ एक जैसा है। यहां तक दोनों में पोषण भी एक जैसा ही होता है। लेकिन ब्राउन अंडे में व्हाइट अंडे से थोड़ा ज़्यादा ओमेगा-3 फैटी एसिड होता है, लेकिन उसमें भी न के बराबर फर्क होता है।

ऐसा मन जाता है कि “अंडा 2 तरह का होता है देसी और दूसरा पोल्ट्री। देसी अंडे थोड़े मटमैले यानी कि ब्राउन रंग के होते है। जबकि पोल्ट्री के अंडे सफेद रंग के होते है। ब्राउन अंडा, व्हाइट अंडे से ज़्यादा हेल्दी होता है, इसलिए लोग इन्हें खाना ज्‍यादा पसंद करते हैं। जिसके कारण यह सफेद अंडे से ज्यादा महंगे मिलते है। इसके अलावा अगर प्रोटीन, कोलेस्टॉल और कैलोरी की मात्रा भी देखी जाए, तो ब्राउन अंडे का सेवन करना ज़्यादा बेहतर रहेगा।

रिसर्च के की माने तो, सभी अंडे साइज और कलर के बावजूद पौष्टिक रूप से एक जैसे होते हैं। सभी अंडों में लगभग उसी मात्रा में विटामिन, मिनरल और प्रोटीन होते हैं और कैलोरी की एक ही मात्रा प्रदान करते हैं। अंडे का रंग से उसके पौष्टिक तत्‍वों पर कोई असर नहीं पड़ता है।

इस तस्वीर में हैं बॉलीवुड का सबसे बड़ा सुपरस्टार, क्या आप इन्हें पहचानते हैं?

माहौल और मुर्गियों की डाइट से अंडों की पौष्टिकता पर असर पड़ता है। हमेशा सूर्य के संपर्क में रहने वाली मुर्गियां और अच्‍छा खाने वाली मुर्गियों के अंडों में सभी पोषक तत्‍व होते है। ऐसी मुर्गियों के अंडे ज्‍यादा हेल्‍दी होते हैं। जबकि ऐसी मुर्गियों के अंडे उतने हेल्‍दी नहीं होते हैं जो किसी बंद कमरे में रहती हैं और जिन्‍हें सही आहार नहीं मिल पाता है। पोषक तत्‍वों की तरह ही रंग के आधार पर भी ब्राउन और व्‍हाइट अंडे के स्वाद के बीच बहुत ज्‍यादा अंतर नहीं होता है। हालांकि, मुर्गियों का आहार और अंडे की ताजगी अंडे के स्वाद को प्रभावित करती है।

तो अगली बार जब भी अपने ब्रेकफास्‍ट के लिए अंडा चुनें तो इस बात को सुनिश्चित करें कि आप रंग की बजाय मुर्गियों की गुणवत्‍ता के बारे में सोचें।

=>
LIVE TV