जम्मू कश्मीर : जारी 2 आदेशों के बाद मची अफरा-तफरी, प्रशासन ने दी सफाई

पूर्वी लद्दाख में भारत चीन सीमा पर जारी तनाव के बीच कश्मीर में भी दो सरकारी आदेशों ने लोगों के मन में डर का महौल पैदा कर दिया है। जम्मू कश्मीर प्रशासन की ओर से जारी आदेश में तेल विपणन कंपनियों से कहा गया है कि वह एलपीजी सिलेंडरों के करीब दो माह के स्टॉक को जमा कर लें। इसी के साथ जारी किये गये अगले आदेश में कहा गया है कि गंदेरबल जिले में श्रीनगर लद्दाख के हाईवे पर 16 शिक्षण संस्थानों को सुरक्षाबलों के लिए खाली कर दिया जाए।

इन आदेशों के बाद घाटी के लोगों के मन में अफवाहें घर कर गयीं। वहीं लोग दशहत में आकर जंग के पहले के माहौल की बातें करने लगे। हालांकि प्रशासन की ओर से कहा गया कि मानसून में बारिश के चलते बार-बार हाईवे अवरुद्ध होते हैं लिहाजा एलपीजी सिलेंडरों के स्टॉक का आदेश दिया गया है।

प्रशासन की ओर से बयान में कहा गया कि राष्ट्रीय राजमार्ग 44 रामबन-जवाहर टनल के बीच का क्षेत्र बारिश के चलते प्रभावित रहता है। जिसके चलते मौजूदा समय में भी हम एक माह का स्टॉक रखकर चलते हैं। हालांकि अब एलपीजी कंपनियों से दो महीने का स्टॉक रखने की संभावनाओं पर विचार करने का अनुरोध किया गया है। जिससे बारिश और अन्य कारणों से राजमार्ग बंद होने की सूरत में अफरा-तफरी न हो।

यह भी पढ़ें… भारत नेपाल सीमा बंद होने से बढ़ गयी इन चीजों की कीमत

=>
LIVE TV