जब मुस्लिम महिलाओं ने की राम आरती! एकता की पेश की अनूठी मिसाल…

रिपोर्ट-काशी नाथ

वाराणसी: पूरे भारत में आज राम नवमी हर्षोउल्लास के साथ मनाई जा रही है। काशी में रामनवमी पर अद्भुत क्षण देखने को मिला जब मुस्लिम बहनों ने रामनवमी पर राम आरती और श्रीराम प्रार्थना में हिस्सा लिया।

इस मौके पर हिन्दू और मुस्लिम सम्प्रदाय की महिलाओं ने एक साथ मिलकर इस पर्व को बेहद ख़ुशी के साथ मनाया।

वाराणसी में राम नवमी पर अनूठा आयोजन हुआ| इस राम नवमी में कुछ ख़ास था क्योंकि यहाँ भगवान् राम की आरती करने के लिए मुस्लिम महिलाएं भी मौजूद थी और वो भी सच्चे मन से भगवान राम की आरती गा रही है।

इनका कहना है कि भगवान राम हमारे पूर्वज है और हम पिछले 13 सालों से इसी तरह पूजन अर्चन कर रहे है।

हैवानियत की सारी हद्दे की पार, मंदबुद्धि युवती से किया गैंगरेप

इस मौके पर सभी मुस्लिम बहनों का कहना था कि हम सभी ने साथ मिलकर भगवान श्रीराम की आरती उतारने के बाद उनका भजन गाया और उन्हें सच्चे मन से याद किया।

जिस तरीके से भगवान राम के जन्म लेने से पूरा अयोध्या जगमगा उठा था उसी प्रकार संसार में फैले साम्प्रदायिकता के अँधेरे को हमने आज यहाँ एक साथ भगवान राम की आरती कर ख़त्म करने की कोशिश की है और साम्प्रदायिक ताकतों को करारार जवाब दिया है।

पूरे देश में जहाँ लोग समय-समय पर साम्प्रदायिकता की आग में जल रहे है ऐसे में विश्व गुरु कहे जाने वाले काशी से निकला यह अमन का पैगाम देश और दुनिया को शान्ति के पथ पर अवश्य ले जाएगा।

=>
LIVE TV