जन्नत से कम नहीं है ठूथुकुडी की खूबसूरत जगहें, देखते ही रह जाएंगे आप

अगर आपको समुद्रतट पर घूमना अच्‍छा लगता है तो आपको तमिलनाडु के दक्षिण-पूर्वी तट टूथुकुडी जरूर आना चाहिए। ये जगह टूटिकोरिन के नाम से भी लोकप्रिय है। इस जगह पर एक प्रसिद्ध बंदरगाह भी है और यहां पर आप राज्य की समृद्ध संस्कृति और इतिहास को देख सकते हैं।

ठूथुकुडी
ये शहर ना केवल पर्ल फिशिंग के लिए मशहूर है बल्कि यहां पर देश का सबसे पुराना और महत्‍वपूर्ण बंदरगाह स्थित है। यह शहर पूर्व काल से ही एक बंदरगाह शहर के रूप में प्रसिद्ध है। इतिहास के अनुसार पांडवों ने इसे एक बंदरगाह के रूप में इस्तेमाल किया था और बाद में इस पर पुर्तगाली नाविकों का ध्यान आकर्षित हुआ।
इसके बाद यहीं से उन्होंने भारत के लिए अपना व्यापार संचालित किया था। हिंदू पौराणिक कथाओं के अनुसार लंका में देवी सीता के पौराणिक स्वरूप के दर्शन करने के लिए हनुमान जी इसी स्‍थान से गए थे। ऐसा माना जाता है कि इस शहर का नाम ‘ठूथन’ शब्द से पड़ा है जिसका शाब्दिक अर्थ संदेशवाहक होता है।
यह पर्यटन स्थल समुद्र तटों के लिए लोकप्रिय है। इन प्राचीन सुनहरे समुद्र तटों के चारों ओर देखकर आपके मन को आनंद की अनुभूति होगी। यहां सनसैट का नज़ारा भी पर्यटकों के मन को छू जाता है। टूथुकुडी में कुछ मनोरम समुद्र तटों के साथ-साथ समृद्ध वनस्पतियों की भी भरमार है। यहां पर कई पार्क और ऐतिहासिक स्‍थल भी मौजूद हैं। तो चलिए जानते हैं टूथुकुडी के दर्शनीय स्थलों के बारे में।

हरे आईलैंड
हरे आईलैंड पर भारी संख्‍या में पर्यटक आते हैं। प्राकृतिक सुंदरता में डूबी इस जगह को देखकर पर्यटकों का मन प्रफुल्लित हो उठता है। दोस्‍तों या रोमांटिक डेट के लिए इस जगह पर आ सकते हैं। ये आईलैंड शहर के तूतीकोरिन बंदरगाह द्वारा अवस्थित है।

अपने सुंदर और निर्मल वातावरण के कारण ये द्वीप, पर्यटकों और स्थानीय लोगों के बीच एक आकर्षण का केंद्र है। 1.29 वर्ग किमी के क्षेत्रफल में फैला ये आईलैंड दो प्रकाश स्तंभों से घिरा हुआ है।

यह द्वीप मुन्नार मरीन नेशनल पार्क की खाड़ी का एक प्रमुख हिस्सा है और सड़क मार्ग से इस आईलैंड का कोई संपर्क नहीं है। इस जगह की खूबसूरती में आप अपने लिए कई यादें संजो सकते हैं।

पुलवामा हमले पर सिद्धू का बयान, इस तरह किया पाकिस्तान का किया बचाव
शंकरा रामेश्‍वर मंदिर
टूथुकुडी तीर्थस्‍थलों और शंकरा रामेश्‍वर मंदिर के लिए प्रसिद्ध है। शंकरा रामेश्वर मंदिर एक ऐसा आध्यात्मिक मंदिर है जो अपने वास्तुशिल्प के साथ-साथ ऐतिहासिक महत्व के लिए भी जाना जाता है। इस मंदिर में एक पवित्र कुंड या तालाब है जहां पर डुबकी लगाने के बाद ही श्रद्धालु मंदिर में दर्शन करने के लिए जाते हैं। शंकरा रामेश्‍वर मंदिर हिंदू देवता भगवान शिव को समर्पित है। इस मंदिर की वास्‍तुकला इस पूरे शहर में सबसे प्राचीन मानी जाती है। मान्‍यता है कि ये मंदिर 700 साल पुराना है। इस मंदिर के दर्शन करने के बाद आपको भी ये अहसास होगा कि आप भी 700 साल पहले के समय में इस मंदिर को देख रहे हैं।
रोचे पार्क
इस शहर के रिक्रिएशनल पार्क भी बहुत मशहूर हैं जिनमें से एक रोचे पार्क भी है। हरे-भरे वातावरण और सुंदर फूलों से सजे इस पार्क को शहर का सबसे मनोरंजन पार्क कहा जाता है। पेड़-पौधों और फूलों के अलावा और भी कई चीज़ें इस पार्क में आपको आकर्षित कर सकती हैं। पार्क में खान-पान की सुविधा भी उपलब्‍ध है। यहां आप अपने दोस्‍तों, परिवार या जीवनसाथी के साथ अच्‍छा समय बिता सकते हैं।

कझुगुमलई
स्‍थानीय भाषा में इस जगह को कलुगुमलई कहा जाता है। ये भी अन्‍य धार्मिक स्‍थल है जहां पर 8वीं शताब्‍दी का जैन गुफा मंदिर स्थित है। इस जगह का प्रमुख आकर्षण मुरुगन मंदिर है जिसे कझुगसलमूर्ति मंदिर के नाम से भी जाना जाता है। अपने अद्भुत वास्‍तुशिल्प के कारण ये मंदिर हज़ारों पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करता है। स्‍थानीय लोगों और दुनियाभर के श्रद्धालुओं के बीच ये जगह एक धार्मिक केंद्र के रूप में महत्‍व रखता है।

अगर आप भी चलाते हैं स्मार्टफोन तो जरुर पढ़ें ये खबर, अमेजन आपके लिए लाया है कुछ खास…
ठूथुकुडी आने का सही समय
इस जगह पर घूमने के लिए सर्दी का मौसम सबसे बेहतर रहता है। दिसंबर से मार्च के महीने में ठूथुकुडी का मौसम सुहावना रहता है। इस दौरान यहां तापमान 20 डिग्री सेल्सियस से 32 डिग्री सेल्सियस रहता है।

ठूथुकुडी कैसे पहुंचे
वायु मार्ग: ठूथुकुडी में कोई हवाई अड्डा नहीं है लेकिन इसका नज़दीकी एयरपोर्ट शहर से 33 किमी दूर स्थित है। ठूथुकुडी का नज़दीकी एयरपोर्ट तूतीकोरिन हवाई अड्डा है जोकि देश के प्रमुख शहरों से जुड़ा हुआ है। एयरपोर्ट से ठूथुकुडी पहुंचने के लिए आप कैब बुक कर सकते हैं।
रेल मार्ग : ठूथुकुडी में रेलवे स्‍टेशन है जिसका नाम ठूथुकुडी जंक्‍शन है। इसलिए ठूथुकुडी पहुंचने का सबसे सरल मार्ग रेल है। इस स्‍टेशन पर देश के प्रमुख शहरों से नियमित ट्रेनें चलती हैं।
सड़क मार्ग : ठूथुकुडी के लिए देश के प्रमुख शहरों से बसें चलती हैं। ठूथुकुडी के लिए आपको बस टर्मिनल से नियमित बस सुविधा मिल जाएगी।

=>
LIVE TV