Monday , July 24 2017

चीन का दावा- मार गिराए 158 भारतीय सैनिक, भारत ने किया खंडन, बताया अफवाह

चीन से युद्ध शुरूनई दिल्ली। भारत-चीन सीमा पर विवाद इन दिनों काफी चर्चा में है। पाकिस्तान के बाद पड़ोसी देश चीन के बदलते रुख युद्ध में तब्दील हो रहे हैं। ऐसे में दावा किया गया कि चीन से युद्ध शुरू हो गया और उसने डोकलम इलाके में 158 भारतीय सैनिक मार गिराए हैं। इस मामले में चीन का कहना है कि यह अभी शुरुआत है, यदि भारत ने पीछे हटने फैसला नहीं लिया तो परिणाम और भी बुरे हो सकते हैं। वहीं इस दावे का खंडन करते हुए भारत ने सोमवार को इसे महज एक अफवाह बताया है। सच क्या है अभी इस बात की जानकारी नहीं, लेकिन दोनों देशों के बीच बढ़ रहे विवाद से आसार अच्छे नहीं जान पड़ रहे।

राष्ट्रपति चुनाव किनारे, मोदी के लिए सबसे बड़ा सिरदर्द बना ये ऐलान, टूटा अखंड भारत का सपना  

ख़बरों के मुताबिक़ चीनी मीडिया की उस रिपोर्ट में कहा गया था कि उनकी सेना ने 158 भारतीय सैनिको को मार गिराया है और सिक्किम बॉर्डर पर रॉकेट दागे हैं।

चीनी मीडिया की यह रिपोर्ट तिब्बत सीमा पर चीनी सैनिकों के युद्धाभ्यास के एक दिन बाद आई।

वहीं विदेश मंत्रालय के आधिकारिक प्रवक्ता गोपाल बागले ने कहा कि ऐसी रिपोर्ट बिलकुल गलत और आधारहीन हैं। ऐसे कोई भी रिपोर्ट एक जिम्मेदार मीडिया द्वारा नहीं चलाई जाती है।

बता दें पाकिस्तानी मीडिया दुनिया न्यूज टीवी इस वीडियो कों लगातार चला रहा है। पाकिस्तानी चैनल इन तस्वीरों को चीन का भारत पर हमला बता रही है।

जम्मू एवं कश्मीर में आपसी झगड़े में मेजर की मौत

दावा किया गया है कि यह खबर पूरी तरह से झूठी है और पाकिस्तान लगातार इस झूठी खबर को बढ़ावा दे रहा है।

गौरतलब है कि चाइना सेंट्रल टीवी की ओर से दो मिनट का एक वीडियों जारी किया गया था, जिसमें दिखाया गया था कि चीनी सैनिकों ने सिक्किम बॉर्डर पर हमला कर दिया है। इस हमले में कई भारतीय सैनिक घायल हो गए हैं।

वीडियों में यह भी दिखाया गया कि चीनी सैनिकों ने भारतीय पोस्ट पर रॉकेट लॉन्चर, मशीन गन और मोटार से हमला कर दिया है।

गौरतलब है कि पिछले महीने से भारत और चीन के बीच डोकलाम को लेकर तनातनी चल रही है। भारतीय सैनिकों ने चीनी सेना के डोकलाम में रोड निर्माण करने पर रोक लगा दी थी।

इसके बाद दोनों देशों की ओर से सीमा पर सैनिकों को संख्या बढ़ा दी। डोकलाम, चीन-भारत-भूटान सीमा के तीराहे पर स्थित है। इस क्षेत्र पर भूटान और चीन दोनों अपना दावा कर रहे हैं।

विवाद बढ़ने के बाद से चीन ने हर साल होने वाली अमरनाथ यात्रा पर रोक लगा दी। इसके साथ ही चीन ने भारतीय सेना पर बॉर्डर पार कर चीनी सीमा में घुसने का भी आरोप लगाया।

सिक्किम के ऊपर भारत-भूटान-चीन के दोकलम नामक ट्राइ-जंक्शन क्षेत्र में चीनी सैनिकों को सड़क निर्माण से रोकने के बाद चीन लगातार अड़ियल रुख अपना रहा है।

ताजा मामले में चीन ने भारतीय सैनिकों द्वारा दोकलम में तंबू गाढ़ने के बाद भारत को धमकाने के लिए नई चाल चली है।

उसने कई देशों के राजदूतों को बुलाकर कहा कि चीन इस मुद्दे पर न तो पीछे हटेगा और न ही ज्यादा इंतजार कर सकता है।

इस बीच, चीनी मीडिया ने दोबारा धमकी दी है कि चीन इस मसले पर किसी भी तरह के टकराव के लिए तैयार है।

चीन के सरकारी मीडिया ‘ग्लोबल टाइम्स’ ने भारत को धमकी देते हुए एक बार फिर कहा है कि चीन युद्ध से नहीं डरता है, यदि भारत कुछ एक स्थानों पर टकराव चाहता है तो उसे पूरी वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर मुकाबला करना होगा।

उसने कहा कि दोनों देशों के बीच सीमा विवाद पर बातचीत जारी है लेकिन इस वातावरण में भारत ने दोकलम पर कार्रवाई करके जहर घोल दिया है।

अखबार ने धमकी दी कि दोकलम इलाके में भारतीय सेना की मौजूदगी चीन की संप्रभुता के लिए खतरा है और भारत को इस टकराव के दुष्परिणाम भुगतना पड़ सकते हैं।

इतना ही नहीं ‘ग्लोबल टाइम्स’ ने चीन सरकार को सुझाव दिया कि वह दोकलम क्षेत्र में और सैनिक भेजकर सड़क निर्माण का काम जारी रखे, ताकि भारत को सबक सिखाया जा सके।

देखें वीडियो :-

LIVE TV