चाईबासा जनसंहार को याद करके छलक पड़े अमित शाह के आंसू, जानिए क्यों

केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने सोमवार को कहा कि चाईबासा में जनवरी में सात आदिवासियों का जिस प्रकार जनसंहार किया गया वैसा उन्होंने अपने जीवन में कभी नहीं देखा लेकिन उससे भी दुखद बात यह है कि राज्य सरकार ने अब तक इस मामले में कोई सख्त कार्रवाई नहीं की है. शाह ने यहां बाबूलाल मरांडी के झारखंड विकास मोर्चा (प्र) के भाजपा में विलय के लिए आयोजित विशाल जनसभा में यह बात कही.

चाईबासा जनसंहार

चाईबासा जनसंहार को याद करके रोये अमित शाह-

शाह ने कहा, चाईबासा में जिस प्रकार गरीब आदिवासियों की नृशंस हत्या की गई और परिवार वालों के सामने गरीब ग्रामीणों के सिर को धड़ से अलग कर दिया गया वैसा मैंने जीवन में कभी नहीं देखा.

मौत का आंकड़ा पहुंचा 2000 के पार, कोरोना वायरस ने मचाया तहलका

उन्होंने कहा कि इससे भी दुखद बात यह है कि राज्य में नवगठित सरकार ने इतने नृशंस हत्याकांड के आरोपियों के खिलाफ कोई सख्त कार्रवाई नहीं की है. शाह ने कहा, हम झारखण्ड को पतन के रास्ते पर जाते नहीं देख सकते.

=>
LIVE TV