Saturday , March 25 2017 [dms]

महिला सिपाही ने किया शर्मसार, दस फीट गहरे नाले में गर्भवती को दिया धक्का

गर्भवती महिला को धक्कामेरठ। नोटबंदी के बाद शुरू हुई दुश्वारियां आम लोगों के बीच से ख़त्म होने का नाम ही नहीं ले रही हैं। पीएम मोदी और रिजर्व बैंक के द्वारा जनहित में लिए गए फैसलों के बाद भी हैरान कर देने वाले मामला सामने आया है। उत्तर प्रदेश में मेरठ के थाना कोतवाली क्षेत्र गोलाकुआं स्थित एसबीएआई ब्रांच का है। यहां एक महिला सिपाही ने पैसे लेने के लिए बैंक की लाइन में लगी गर्भवती महिला को धक्का देकर नाले में गिरा दिया। लेकिन महिला को नाले में गिरा देख एक चौकी इंचार्ज ने उसकी जान बचाई।

गर्भवती महिला को धक्का…

आठ महीने की गर्भवती शाइस्ता हापुड़ अड्डे के पास गोला कुआं के भारतीय स्टेट बैंक में अपने देवर और देवरानी के साथ पैसे जमा करने गई थी इसी बीच हंगामा हो गया।

आरोप है कि एक महिला कांस्टेबल ने शाइस्ता को महिला सिपाही होने का रौब दिखाते हुए एक थप्पड़ मार दिया जब महिला ने विरोध किया तो सिपाही ने उसके साथ धक्का-मुक्की कर दी इससे वह पास के में नाले में गिर गई।

नाला गहरा होने की वजह से वो डूबने लगी इस बीच कोतवाली थाने की सोहराब गेट पुलिस चौकी के इंचार्ज ओ.एन. पाण्डे बहादुरी दिखाते हुए नाले में उतर गए और जैसे-तैसे शाइस्ता को बाहर निकाला।

शाइस्ता के बेहोश हो जाने पर 108 एंबुलेंस बुलाकर उसे तुंरत मेडिकल अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उसे प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई।

इस मामले में महिला ने इन्साफ की मांग करते हुए आरोपी महिला सिपाही पर कार्रवाई की मांग की है।

LIVE TV