क्या आप जानते हैं इस भूतिया फोन नंबर के बारें में, बताएगा आपकी मौत का समय

इस जमाने में बार-बार मोबाइल नंबर बदलना आपको बारी पड़ सकता है। आपने आजतक डरावनी जगहों, घरों, होटलों और लोगों के बारे में सुना होगा लेकिन आज हम जिस डर के बारे में बताने जा रहे हैं उसके बाद आप अपना मोबाइल नंबर बदलने से पहले सौ बार सोचेंगे। कभी सुना है कि मोबाइल नंबर भी भूतिया हो सकता है। पिछले दस सालों में जिन लोगों ने भी इस नंबर का इस्तेमाल किया उनकी मौत हो गई।

जी हां, एक ऐसा मोबाइल नंबर है जिसे जिसने भी खरीदा उसको मौत लेने आ गई। सोशल मीडिया पर इस भूतिया मोबाइल नंबर को लेकर जोरशोर से चर्चा की जा रही है। बताया जा रहा है कि इस मोबाइल नंबर को अब तक जिसने भी इस्तेमाल किया है उसकी मौत हो गई है। यह अबतक की कोई पहली घटना नहीं है बल्कि अब तक तीन बार ऐसी घटनाएं हो चुकी हैं। इस नंबर को अब तक तीन लोगों ने खरीदा है जिनकी मौत हो गई।

दरअसल, यह मामला बुल्गारिया का है। सबसे पहले इस नंबर को मोबीटेल कंपनी के सीईओ ने खरीदा था। कंपनी के सीईओ व्लादमीर गेसनोव ने 0888888888 सबसे पहले खुद के लिए जारी करवाया था। इसके बाद साल 2001 में व्लादमीर की मौत कैंसर के कारण हो गई। ऐसा माना जाता है कि कैंसर से मौत होने की अफवाह उनके दुश्मनों ने फैलाई थी, जबकि मौत की असली वजह कुछ और ही थी। कुछ मीडिया संस्थानों की खबरों के अनुसार बताया गया कि यस मोबाइल नंबर की उनकी जान का दुश्मन बना।

एक ऐसी घटना जब एक क्रूर शासक डर के मारे सहम गया था, जानें क्या थी कहानी…

व्लादमीर के बाद इस मोबाइल नंबर को डिमेत्रोव नाम के एक खुख्यात ड्रग डीलर ने ले लिया, यह नंबर लेने के बाद डिमेत्रोव को वर्ष 2003 में एक असेसन ने मार दिया। डिमेत्रोव को रशियन माफिया ने मार गिराया था। डिमेत्राव का ड्रग कारोबार 500 मिलियन का था। मौत के समय यह नंबर डिमेत्रोव के पास ही था।

=>
LIVE TV