Monday , July 24 2017

देशभर में खुलेंगे 100 जीएसटी प्रशिक्षण केंद्र

कौशल विकासनई दिल्ली। कौशल विकास और उद्यमशीलता मंत्रालय ने कौशल भारत मिशन की दूसरी वर्षगांठ पर देशभर में 100 जीएसटी प्रशिक्षण केंद्रों, 51 प्रधानमंत्री कौशल केंद्रों और 100 योग प्रशिक्षण केंद्रों का उद्घाटन किया। कौशल विकास और उद्यमशीलता मंत्रालय (एमएसडीई) ने शनिवार को विश्व युवा कौशल दिवस के मौके पर कौशल भारत मिशन की दूसरी सालगिरह मनाई। 15 जुलाई 2015 को पहले विश्व युवा कौशल दिवस के मौके पर कौशल भारत अभियान की शुरुआत की गई थी।

इस अवसर पर कौशल विकास एवं उद्यमिता मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) राजीव प्रताप रूडी ने कहा, “भारत पिछले 5000 सालों से कारीगरी आधारित अर्थव्यवस्था है। हमारे पास हमेशा से बुनकर, कुम्हार, किसान और माली रहे हैं। लेकिन ब्रिटिश शासन के साथ देश ने शासकों की कला सीख ली। हमें फिर से अपनी जड़ों की ओर जाना होगा और अपने प्राकृतिक कौशल को खोजना होगा, जो हमारे कार्य को अधिक प्रभावी बनाएगा। हम सभी जानते हैं कि प्रायोगिक ज्ञान ही सबसे प्रासंगिक ज्ञान है।”

कांग्रेस के बाद अब भाजपा करेगी उप राष्ट्रपति पद के प्रत्याशी का ऐलान

कार्यक्रम में प्रमुख कम्पनियों के प्रतिनिधियों ने भी हिस्सा लिया और 3,20,000 से ज्यादा कम्पनियों ने नेशनल एप्रेन्टिसशिप प्रमोशन स्कीम के तहत कौशल भारत मिशन हेतु एप्रेन्टिसशिप प्रशिक्षण को सहयोग प्रदान करने की शपथ ली।

इस मौके पर कौशल विकास और उद्यमशीलता मंत्रालय ने अपनी प्रमुख योजना प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के तहत जीएसटी प्रैक्टिस करने वालों को प्रमाणित करने के लिए राष्ट्रीय प्रशिक्षण प्रोग्राम का भी ऐलान किया। यह देश की नई कर प्रणाली को सुगम और सहज बनाने में योगदान देगा।

गोमाता को बचाने के लिए पीएम मोदी ने खेला मास्टर स्ट्रोक, फिर मातम मनाएंगे मुस्लिम!

इस मौके पर पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री (स्वतन्त्र प्रभार) धर्मेन्दर प्रधान ने कहा, “कुछ सालों के बाद 50 फीसदी नौकरियां बेमानी हो जाएंगी। ऐसे में जरूरी है कि हम अपने युवाओं को आधुनिक युग की नौकरियों के लिए कुशल बनाएं। जैव-ईंधन, उर्जा एवं पेट्रोलियम सेक्टर में अपार सम्भावनाएं हैं और युवा इन अवसरों का सर्वश्रेष्ठ फायदा उठा सकते हैं।”

हर जिले में एक प्रधानमंत्री कौशल केन्द्र खोलने की प्रतिबद्धता के साथ देश में 51 नए केन्द्रों का ऐलान किया गया, इसी के साथ देश में इन केन्द्रों की संख्या 200 तक पहुंच गई है। योग को प्रोत्साहित करने के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के ²ष्टिकोण के मद्देनजर मंत्रालय ने 100 योग प्रशिक्षण केन्द्र भी शुरू किए।

राष्ट्रपति चुनाव की तैयारियां पूरी, कोविंद की दावेदारी प्रबल

इस मौके पर प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के तहत प्रशिक्षित हुए उम्मीदवारों को शॉर्ट टर्म/ रिकग्निशन ऑफ प्रायर लर्निग प्रमाणपत्र भी दिए गए। एमएसडीई ने प्रशिक्षकों और मूल्यांकनकर्ताओं के एक पोर्टल-तक्षशिला का भी उद्घाटन किया।

इस अवसर पर कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी, ग्रामीण विकास, पंचायती राज, पेयजल एवं जल स्वच्छता मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री जगत प्रकाश नड्डा, जल संसाधन एवं नदी विकास और गंगा कायाकल्प मंत्री उमा भारती ने भी संबोधित किया।

दुनिया की सबसे बड़ी व्यावसायिक कौशल प्रतियोगिता आबू धाबी में 14 से 19 अक्टूबर 2017 के बीच होगी। मंत्रियों ने भारत का प्रतिनिधित्व करने वाले उम्मीदवारों को शुभकामनाएं दीं।

LIVE TV