केदारनाथ धाम में इशानेश्वर मंदिर के निर्माण को PM मोदी ने दी सशर्त मंजूरी

केदारनाथ धाम में इशानेश्वर मंदिर के निर्माण को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सशर्त मंजूरी दी है। प्रधानमंत्री ने निर्देश दिए हैं कि मंदिर निर्माण इस तरह हो, जिससे केदारनाथ मंदिर की भव्यता बनी रहे। मुख्य सचिव ओमप्रकाश ने देवस्थानम बोर्ड को मंदिर की विस्तृत परियोजना रिपोर्ट (डीपीआर) बनाने के निर्देश दिए हैं।

इशानेश्वर मंदिर के डिजाइन और ड्राइंग पर आर्कियोलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया से स्वीकृति ली जाएगी। इसके बाद ही मंदिर की डीपीआर पर मुहर लगेगी। मुख्य सचिव ने कहा कि इशानेश्वर मंदिर के निर्माण को लेकर प्रधानमंत्री के निर्देशों का पालन किया जाएगा। केदानाथ धाम में दूसरे चरण के तहत निर्माण कार्यों में वन एवं पर्यावरण संबंधी क्लीयरेंस ली जाएगी। प्रस्तावित कार्य मास्टर प्लान के अनुसार होंगे। निर्माण कार्यों के लिए भूमि चिह्नित की जा रही है। रुद्रप्रयाग जिला प्रशासन ने जानकारी दी है कि कुछ कार्यों के लिए भूमि उपलब्ध है।केदारनाथ धाम के पुनर्निर्माण कार्यों को गुणवत्ता के साथ समय पर पूरा किया जाएगा। इसके लिए टेंडर के मानक इस तरह रखे जा रहे हैं, ताकि हाई एल्टीट्यूड पर कार्य का अनुभव रखने वाली सक्षम कंपनियों को वरीयता मिले। पुनर्निर्माण में योगदान देने वाले प्रत्येक सार्वजनिक उपक्रम के कार्य को एक पैकेज के रूप में कराने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने बताया कि केदारनाथ में विस्थापित व्यक्तियों को भूमिधरी अधिकार देने पर सरकार विचार कर रही है। 

भूमिधर अधिकार नहीं मिलने से खफा लोग नए सिरे से बातचीत के लिए सकारात्मक पहल नहीं कर रहे हैं। भूमिधरी अधिकार देने के लिए जरूरत पड़ी तो भूमि कानून में संशोधन किया जाएगा। इस संबंध में प्रस्ताव पर राजस्व विभाग विचार कर रहा है। केदारनाथ स्थित हेलीपैड में चिनूक हेलीकॉप्टर को उतारने की तैयारी है। हेलीपैड का विस्तार करने के लिए भूमि की पैमाइश कराई जा रही है। 

=>
LIVE TV