किसानों की परेशानी को देखते हुए हाल ही में बांग्लादेश से नेपाल पीएम ओली ने लगाई मदद की गुहार

नेपाल ने हाल ही में बांग्लादेश से मदद की गुहार लगा दी है. जी दरअसल नेपाल के प्रधानमंत्री ओली ने बीते मंगलवार को बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना को फोन किया था. इस दौरान फ़ोन पर उन्होंने उनसे यूरिया देने के लिए अनुरोध किया. जी दरअसल ओली ने बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना से जल्द से जल्द 50,000 टन यूरिया फर्टिलाइजर उपलब्ध करवाने के लिए कह दिया है. मिली जानकारी के अनुसार इस समय नेपाल में यूरिया की काफी कमी हो गई है इस करण से किसान परेशान हैं. किसानों की परेशानी को देखते हुए नेपाल के प्रधानमंत्री ओली ने यह कदम उठाया है.

जी दरअसल कोरोना वायरस के बाद हुए लॉकडाउन की वजह से भारत से भी यूरिया की आपूर्ति बाधित हो गई है जिसकी वजह से अब यह फैसला लिया गया है. जी दरअसल नेपाल के प्रधानमंत्री केपी ओली ने ट्वीट किया और बांग्लादेश की प्रधानमंत्री से बातचीत की जानकारी दी. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, ‘बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना से नेपाल-बांग्लादेश के संबंधों के कई पहलुओं पर सकारात्मक बातचीत हुई. उन्होंने यूरिया की अर्जेन्ट सप्लाई के मेरे अनुरोध पर सकारात्मक रुख दिखाया.’ इसके अलावा ओली ने यह भी बताया कि, ‘टेलिफोन पर हुई बातचीत में दोनों देशों के बीच व्यापार, ऊर्जा और व्यापार मार्ग को लेकर सहयोग बढ़ाने की जरूरत को लेकर भी चर्चा हुई.’

आप सभी को बता दें कि कोरोना महामारी से निपटने में बांग्लादेश ने नेपाल की मदद की. इस दौरान बांग्लादेश ने नेपाल को रेमडेसविर की 5000 शीशियां और अन्य जरूरी दवाएं व मेडिकल सामान की भी आपूर्ति की है. वहीँ अब ओली ने अनाज का सरप्लस उत्पादन करने को लेकर बांग्लादेश की तारीफ की. जी दरअसल कृषि उत्पादन में अपनी सरकार की कोशिशों को बताते हुए ओली ने कहा कि, ‘कृषि क्षेत्र में बांग्लादेश की सफलता की कहानी से नेपाल को भी फायदा होगा.’

=>
LIVE TV