बाबा रामदेव ने कहा ‘कानून है वरना भारत माता का सम्मान नहीं करने वाले की गर्दन काट सकते हैं’

एजेन्सी/  baba-ramdev_650x400_41450433658रोहतक: हरियाणा में आरएसएस द्वारा आयोजित सद्भावना रैली में जनता को संबोधित करते हुए बाबा रामदेव ने एमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी पर निशाना साधते हुए कहा कि कानून है वरना एक की क्या लाखों की गर्दन काट सकते हैं। गौरतलब है कि कुछ दिन पहले औवेसी ने संघ प्रमुख मोहन भागवत को जवाब देते हुए कहा था कि कोई उनकी गर्दन पर छुरी भी रख दे, तब भी वह ‘भारत माता की जय’ के नारे नहीं लगाएंगे।

अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस में छपी खबर के मुताबिक रोहतक में हुई इस सद्भावना रैली में बाबा रामदेव ने भारत माता की जय नारे पर चल रहे विवाद पर कहा ‘कोई आदमी टोपी पहनकर खड़ा हो जाता है, बोलता है भारत माता की जय नहीं बोलूंगा, चाहे मेरी गर्दन काट दो। अरे इस देश में कानून हैं, नहीं तो तेरी एक की क्या, हम तो लाखों की गर्दन काट सकते हैं।’ रामदेव ने यह भी कहा कि ‘कोई ऐसे खड़ा हो कर बोल दे, इसलिए इन हुड़दंगियों के हौंसले बुलंद हो जाते हैं। हम इस देश के कानून और संविधान का सम्मान करते हैं, नहीं तो कोई भारत माता का अपमान करे, एक नहीं, हम हज़ारों लाखों के शीष कमल करने का सामर्थ्य रखते हैं।’

‘भारत माता की जय धर्म के खिलाफ कैसे’
हाल ही में इस्लामिक तालीम के प्रमुख केंद्र दारुल उलूम ने एक फतवा जारी करते हुए कहा था कि भारत माता की जय का नारा लगाना इस्लाम धर्म में उचित नहीं है। इस पर भी निशाना साधते हुए रामदेव ने कहा ‘मुझे आश्चर्य होता है, कुछ संस्थाएं बनी हुई हैं, कहती हैं भारता माता की जय बोलना हमारे धर्म के खिलाफ है। यह कैसे हो सकता है। अपनी मातृभूमि को गौरव देना किसी मज़हब के खिलाफ नहीं और अगर कोई मज़हब यह कहता है कि अपनी मातृभूमि को गौरव मत दो, तो वह मज़हब भी देश के हित में नहीं है।

बता दें कि पिछले महीने हरियाणा में जाट आंदोलन के दौरान हुई हिंसा से काफी जान-माल का नुकसान हुआ था। राज्य में शांति और भाई चारे को बनाए रखने के उद्देश्य से आयोजित की गई इस रैली में हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल आचार्य देवव्रत समेत अभिनेता रणदीप हुड्डा हरियाणा की कई हस्तियां शामिल थीं।

=>
LIVE TV