सीएम बनने से पहले ‘कमलनाथ को कसाई’ क्यों बता रहा यह नेता

नई दिल्ली| अकाली दल के नेता व दिल्ली के विधायक मनजिंदर सिंह सिरसा ने गुरुवार को कहा कि अगर कांग्रेस नेता कमलनाथ मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री बने तो सिख इसके खिलाफ राष्ट्रव्यापी विरोध प्रदर्शन करेंगे। सिरसा ने आरोप लगाया कि 1984 के सिख दंगों में कमलनाथ की भूमिका थी।

सिरसा ने संवाददाताओं से कहा, “अगर मध्य प्रदेश में कमलनाथ को मुख्यमंत्री के रूप में चुना जाता है तो सिख राष्ट्रव्यापी विरोध करेंगे। राहुल गांधी को चेतावनी दे रहा हूं कि अगर वह 1984 के सिख नरसंहार के कसाईयों को पुरस्कृत करने की अपने परिवार की परंपरा का पालन करेंगे तो उन्हें सिखों के गुस्से का सामना करना होगा।”

कमलनाथ मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री पद की दौड़ में आगे हैं जहां कांग्रेस ने 114 सीटों पर जीत हासिल की है लेकिन पूर्ण बहुमत से दो सीट दूर है।

सिरसा ने कहा, “सिख समुदाय डरा नहीं है। हम कमलनाथ को उनके कृत्यों की सजा दिलाएंगे। कांग्रेस न्यायपालिका या सीबीआई को नियंत्रित कर सकती है लेकिन वह दोषियों की रक्षा नहीं कर सकती है।”

मोदी ने उठाया ऐसा कदम की जीत कर भी हार गए राहुल गांधी

उन्होंने राहुल गांधी को चेतावनी दी कि सिख बहुत धैर्यवान हैं और उन्हें कमलनाथ को मुख्यमंत्री बनाने जैसे फैसले से उकसाना नहीं चाहिए।

उन्होंने यह भी कहा कि ‘इतिहास में दर्ज है कि जब किसी ने इस समुदाय के साथ शत्रुता दिखाई तो सिखों ने उन्हें उचित जवाब दिया है।’

=>
LIVE TV