कभी चमकते थे सितारे लेकिन आज सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी को मजबूर हैं सिद्धू

नई दिल्ली। बॉलीवुड में कब क्या हो जाए। कुछ पता नहीं चलता यहां कुछ लोग जीवन में सफलता की सीढ़ीया चढ़ रहे है तो कुछ लोग संघर्ष की जिदंगी जीने को मजबूर है।

गुलाल-पटियाला हाउस और बेवकूफियां जैसी फिल्मों में काम कर चुके सवि सिद्धू इन दिनों सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी करने पर मजबूर हैं। उन्होंने एक वीडियो इंटरव्यू में अपनी इस हालत का खुलासा किया।

एंटरटेनमेंट वेबसाइट फिल्म कम्पेनियन को दिए इंटरव्यू में सवि ने फिल्मों में अपने आने की कहानी को साझा करते हुए बताया – जब स्ट्रगल कर रहा था, तब अनुराग कश्यप मिले। तो उन्होंने मुझे अपनी पहली फिल्म पांच में लिया, पर ये रिलीज ही नहीं हुई। उसके बाद उन्होंने मुझे ब्लैक फ्राइडे में लिया। मैंने उसमें कमिश्नर सामरा का रोल किया। उनके साथ मैंने गुलाल भी की। मैंने यशराज, सुभाष जी के साथ निखिल आडवाणी के साथ पटियाला हाउस की।

त्रिलोचन के मुताबिक एक वक्त उनके पास इतना काम था कि उन्होंने कुछ प्रोजेक्ट्स ये कहकर छोड़ दिए कि उनकी तबियत ठीक नहीं है। कुछ वक्त बाद उन्हें काम मिलना बंद हो गया और उनकी आर्थिक हालत भी खराब होने लगी। इसके बाद उनकी वाइफ की भी मौत हो गई। इसके अगले साल पिता की भी मौत हो गई। धीरे-धीरे मेरे रिश्तेदार दुनिया छोड़कर चले गए।

विश्व कप के लिए राहुल एक विकल्प लेकिन धवन उपयुक्त

त्रिलोचन ने कहा कि- आप सुबह उठते हैं खाना खाते हैं और काम पर जाते हैं। इसके बाद काम से वापस लौटते हैं खाना बनाते हैं और खाना खाकर सो जाते हैं। सवी के मुताबिक मुझे बस से जाकर डायरेक्टर से मिलने तक के पैसे नहीं हैं। सिनेमाघर में फिल्म देखना सपना हो गया है।

=>
LIVE TV