कब रुकेंगे जानवरों के खिलाफ क्रूरता के मामले, केरल में गर्भवती भैंस को मारा तो ओडिशा में मिला शिशु हाथी का शव

देश में पहले से ही कई जगहों पर बाढ़ के कारण जानवरों का जीवन मुश्किल हो चुका है और उसपर बेजुबान जानवर पर हमला करने वाले लोगों ने इंसानियत खो दी है। पिछले काफी समय से जानवरों पर हमले की खबर सामने आ रही है। अब एक नहीं बल्कि दो मामले प्रकाश में आए हैं। पहला मामला केरल से है, जहां भैंस को क्रूरता से मारने का मामला सामने आया है।

मलप्पुरम में केरल वन विभाग के अधिकारियों ने गर्भवती जंगली भैंस को मारने के आरोप में 6 लोगों को गिरफ्तार किया है। बताया गया कि 10 अगस्त को एक आरोपी के घर से 25 किलो मीट जब्त किया गया। इसके बाद उसे साथियों की खोज शुरू हुई। बाकी आरोपियों को 18 अगस्त को गिरफ्तार कर लिया गया। इस मामले में जो रेंज वन अधिकारी ने बताया वो काफी दर्दनिए हैं। उन्होंने मामले को उजागर करते हुए कहा, ‘आरोपियों द्वारा भैंस को बहुत क्रूरता से मारा गया।’ अब जहां इसके बाद एक सवाल जो हर कोई पूछ रहा है कि बेजुबान जानवरों की क्या गलती है और कब जानवरों के खिलाफ क्रूरता के मामले रुकेंगे। 

=>
LIVE TV