उत्‍तराखंड में शासन ने निजी अस्पतालों में कोरोना के इलाज की दरें कर दी तय….

शासन ने निजी अस्पतालों में कोरोना के इलाज की दरें तय कर दी हैं। नेशनल एक्रिडिएशन बोर्ड फॉर हॉस्पिटल एंड हेल्थ केयर (एनएबीएच) से संबद्ध अस्पतालों की दर अन्य निजी अस्पतालों से अधिक रखी गई हैं। इसे तीन श्रेणियों में बांटा गया है। मध्यम श्रेणी के बीमारों के इलाज की दर एनएबीच से संबंद्ध अस्पतालों में प्रतिदिन आठ हजार रुपये तो वहीं अन्य निजी अस्पतालों में यह दर प्रतिदिन 6400 रुपये रखी गई है। प्रदेश में इलाज की ये दरें केंद्र से स्वीकृत दरों से 20 फीसद कम रखी गई हैं। हालांकि, इसमें कोरोना टेस्ट की दर शामिल नहीं है।

शासन ने कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए हाल ही में निजी अस्पतालों को भी कोरोना के इलाज की अनुमति प्रदान की है। अनुमति देते हुए सरकार ने कहा था कि निजी अस्पताल प्रदेश सरकार द्वारा तय की गई दरों पर ही इलाज करेंगे। अब सरकार ने केंद्र की तर्ज पर उत्तराखंड में भी इलाज की दरें जारी कर दी हैं। 

सचिव स्वास्थ्य अमित नेगी ने इस संबंध में आदेश जारी कर दिए हैं। इसमें स्पष्ट किया गया है कि सभी रोगियों का इलाज केंद्र सरकार और आइसीएमआर के दिशा-निर्देशों के अनुसार ही किया जाएगा। निजी अस्पतालों की चिकित्सा दरों के पैकेज में सभी सुविधाएं यानी बिस्तर, भोजन और अन्य सुविधाएं, नर्सिंग देखभाल व डॉक्टरों के दौरे शामिल रहेंगे। अत्यंत गंभीर मरीजों के इलाज में उपयोग होने वाली दवाइयों के लिए अस्पताल अलग से शुल्क ले सकते हैं।

विशेष यह कि इन अस्पतालों को 25 फीसद बेड सरकारी अधिकारी, कर्मचारियों तथा आयुष्मान भारत, अटल आयुष्मान आदि योजना से अच्छादित मरीजों के लिए रखने होंगे। इन अस्पतालों द्वारा चिकित्सकों एवं अन्य चिकित्सकीय स्टाफ के लिए क्वारंटाइन के संबंध में प्रदेश सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देश ही लागू रहेंगे।

ये होंगी प्रदेश में इलाज की दरें

एनएबीच से संबद्ध अस्पताल 

  • आइसोलेटेड बेड (ऑक्सीजन के साथ)-  8000 रुपये।
  • गंभीर मरीज (आइसीयू बिना वेंटीलेटर के) 12000 रुपये। 
  • गंभीर मरीज (आइसीयू और वेंटीलेटर के साथ) – 14,400 रुपये।

अन्य निजी अस्पताल 

  • आइसोलेटेड बेड (ऑक्सीजन के साथ)-  6400 रुपये।
  • गंभीर मरीज (आइसीयू बिना वेंटीलेटर के) 10,400  रुपये। 
  • गंभीर मरीज (आइसीयू और वेंटीलेटर के साथ) – 12,000 रुपये रुपये।

नोट – (इनमें पीपीइ किट की दर शामिल है।)

=>
LIVE TV