आप भी न करें ये बड़ी गलती , एग्जिट पोल को एग्जैक्ट पोल न समझे, 23 मई तक करें धीरज..

नई दिल्ली : आखिरी चरण के मतदान का समय पूर्ण होने के साथ ही  चुनाव के एग्जिट पोल रविवार शाम से आने शुरू हो गए। लोकसभा चुनाव की मतगणना 23 मई को होगी, लेकिन अलग-अलग एजेंसियों के एग्जिट पोल आते ही राजनीतिक बहस का नया दौर शुरू हो गया।

 

एग्जिट पोल

 

लेकिन ऐसा माहौल बनाया जा रहा है जैसे वास्तविक परिणाम भी ऐसे ही होंगे। वहीं बीते कुछ प्रमुख चुनावों के दौरान विभिन्न एजेंसियों द्वारा जारी एग्जिट पोल का विश्लेषण किया तो यह तथ्य सामने आया कि चुनाव के विजेता रहने वाले दल को लेकर कई बार एग्जिट पोल गलत भी साबित हुए हैं।

 

चुनाव नतीजों में बदले ये अनुमान तो हो सकते हैं देश की सियासत में बड़े बदलाव

 

अनुमानों को वास्तविक परिणाम से तुलना करें तो सीटों का अंतर 45 से 126 तक रहा। अपवाद रहने वाली एजेंसियां हर बार नई होती हैं, इसलिए पिछली बार जिसका अनुमान वास्तविकता के करीब था, उसका प्रदर्शन अगले चुनाव में भी इतना खरा हो, कहा नहीं जा सकता।

देखा जाये तो साल 2014 के चुनाव में सभी को अनुमान था कि भाजपा अच्छा प्रदर्शन करेगी, लेकिन कितना अच्छा केवल दो एजेंसियां भांप सकी। वहीं कांग्रेस को होने जा रहे वास्तविक नुकसान अधिकांश नहीं भांप सके।

सर्वे एजेंसी                            यूपीए    एनडीए    अन्य
इंडिया टीवी सी वोटर                  107      289       147
एबीपी न्यूज नीलसन                      97      281       165
टाइम्स नाओ ओआरजी                148      249       146
सीएनएन आइबीएन लोकनीति         97      276       155
न्यूज24 चाणक्य                            70      340       133
औसत                                       104      210       149
परिणाम                                       60      336       147
अनुमान से अंतर                           -44    +126        -2

10 साल पहले हुए लोकसभा चुनाव में कांग्रेस नेतृत्व वाले यूपीए के बारे में अधिकांश एग्जिट पोल गलतत साबित हुए। यूपीए ने जितनी सीटें पाईं, उसका अनुमान कोई सर्वे एजेंसी नहीं कर सकी। दूसरी ओर भाजपा के बारे में अधिकांश एग्जिट पोल का आकलन काफी बढ़ा-चढ़ा कर रहा।

सर्वे एजेंसी                 यूपीए  एनडीए  अन्य
सीएनएन आईबीएन       185    175    150
स्टार नीलसन                199    196    136
इंडिया टीवी सी वोटर     195    189    113
औसत                         193    189    133
परिणाम                        262    159    79
अनुमान से अंतर             +69    -30    -54

वहीं 15 साल पहले एनडीए के सत्ता से बाहर जाने का अनुमान भी कोई नहीं लगा पाया था। वहीं तीसरे धड़े के मजबूत प्रदर्शन का आकलन सभी ने गलत किया, जिसका परिणाम एग्जिट पोल गलत साबित होने के रूप में सामने आया।

सर्वे एजेंसी                   एनडीए    कांग्रेस+ अन्य
आज तक ओआरजी मार्ग   248       190       105
एनडीटीवी एसी नीलसन    240          200     110
सहारा डीआरएस             270          175      96
स्टार न्यूज सी वोटर          270           170     90
औसत                            257           194    100
परिणाम                          187           219    137
अनुमान से अंतर                -70          +25    +37

यूपी में 2017 के विधानसभा चुनाव में भी एग्जिट पोल में भाजपा को मिली सीटों का अनुमान किसी को नहीं हुआ। भाजपा ने अनुमान के औसत से 116 सीटें अधिक हासिल की।

सर्वे एजेंसी               भाजपा    सपा-कांग्रेस    बसपा
इंडिया टुडे एक्सिस         265         35             35
सी वोटर                       161        141            87
एबीपी सीएसडीएस         170        163            67
न्यूज एक्स एमआरसी       185        120           90
टुडेज चाणक्य                 285         88            27
औसत                           209        112           61
परिणाम                         325         19           47
अनुमान से अंतर             +116       -93          -20

दरअसल मैं एग्जिट पोल गॉसिप में विश्वास नहीं करती। दरअसल इसका मकसद माहौल बनाकर हजारों ईवीएम से छेड़छाड़ करना और उन्हें बदल लेना है। मैं सभी विपक्षी दलों से अपील करती हूं कि वे एकजुट, मजबूत और दृढ़ रहें। साहस के साथ मिलकर लड़ेंगे।  -ममता बनर्जी, मुख्यमंत्री पश्चिम बंगाल
प्रत्येक एग्जिट पोल गलत नहीं हो सकता। यह समय टीवी को बंद करने, सोशल मीडिया को लॉग आउट करने और यह देखने का समय है कि क्या दुनिया अभी भी 23 मई को लेकर अपनी धुरी पर घूम रही है।

एक बार फिर समय एग्जिट पोल लोगों का मन भांपने में नाकाम रहा। एग्जिट पोल पूरी तरह गलत साबित होंगे। केंद्र में गैर भाजपा दलों की ही सरकार बनेगी।  – चंद्रबाबू नायडू, तेलुगूदेशम पार्टी

=>
LIVE TV