कार्टर-“आतंकवाद से निपटने के लिए PAK को ​दिया है ‘F-16’ विमान”

एजेंसी/l_uu-1460478383नई दिल्ली।

अमरीका ने कहा कि वह भारत और पाकिस्तान के साथ अपने संबंधों को अलग- अलग नजरिए से देखता है और पाकिस्तान को ‘आतंकवाद से निपटने के लिए ‘एफ-16’ विमान बेचने के उसके निर्णय को दोनों देशों के बीच टकराव से जोड़कर नहीं देखा जाना चाहिए। 

भारत यात्रा पर आए अमरीका के रक्षा मंत्री एश्टन कार्टर ने सोमवार को भारत के रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर के साथ संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में पाकिस्तान को एफ-16 विमान बेचने से जुड़े सवाल के जवाब में कहा कि अमरीका का भारत के प्रति दृष्टिकोण में बदलाव आया है और अब वह भारत के साथ संबंधों को पाकिस्तान के परिप्रेक्ष्य में नहीं देखता। 

अमरीका की भारत और पाकिस्तान के बीच टकराव या इस तरह की किसी गतिविधि को बढावा देने में कोई रूचि नहीं है। इस सवाल पर कि क्या अमरीका रूस की तरह भारत का विश्वस्तरीय साझीदार बन सकता है? उन्होंने कहा कि अमरीका इसकी कोशिश करेगा। 

कार्टर ने कहा कि अमरीका ने भारत को बहुत सी विशेष तकनीक दी है और इस तरह का समझौता उसने किसी अन्य देश के साथ नहीं किया है। अमरीकी रक्षा मंत्री ने कहा कि जैसे भारत के रूस के साथ संबंध हैं वैसे ही वह पाकिस्तान के साथ अपने संबंधों को सम्मान देता है।

कार्टर ने साथ ही स्पष्ट किया कि अमेरिका पाकिस्तान की जमीन से संचालित आतंकवाद को पूरी गंभीरता से लेता है क्योंकि वह खुद भी आतंकवाद का भुक्तभोगी है। उन्होंने कहा कि अमरीका ने कबाइली इलाकों में सक्रिय आतंकवादियों तथा विशेष रूप से तालिबान जैसे आतंकवादी संगठनों से निपटने के लिए पाकिस्तान को ये विमान बेचे हैं।

पर्रिकर ने कहा कि उन्होंने बातचीत के दौरान कार्टर को अमरीका के पाकिस्तान को एफ-16 विमान बेचने पर भारत के विरोध से अवगत कराया, जिस पर उन्होंने आश्वस्त किया कि पाकिस्तान इन विमानों का इस्तेमाल आतंकवाद रोधी अभियानों में करेगा।

=>
LIVE TV