आगरा में नहीं थम रहा कोरोना का कहर, मिले 17 और केस

आगरा।  कोरोना वायरस कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। हर दिन नए केस निकल कर आ रहे हैं। आज सुबह से आगरा में कोरोना के 17 नए मामले सामने आए हैं।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि यूपी सरकार ने यहां पर निर्माण श्रमिकों, रोज कमाने वाले- ठेली, खोमचा, रेहड़ी, रिक्शा, ई-रिक्शा,कुली, ग्रामीण और शहरी क्षेत्र में 16 श्रेणी के कामगारों-धोबी,मिस्त्री, मोची, नाई, कुम्हार, राजमिस्त्री आदि के लिए भरण-पोषण भत्ता देने की व्यवस्था की। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अब तक ऐसे 30 लाख निर्माण श्रमिकों के साथ अन्य सभी श्रमिकों को ये सुविधा उपलब्ध कराई गई है। आज हम एक बार फिर से अपने 30 लाख श्रमिक वर्ग को दूसरी बार भरण पोषण भत्ता की राशि जारी कर रहे हैं। Download Amar Ujala App for Breaking News in Hindi & Live Updates. https://www.amarujala.com/channels/downloads?tm_source=text_share

मुरादाबाद में कोरोना वायरस लॉकडाउन के कारण टमाटर व्यापारियों को काफी नुकसान हो रहा है। टमाटर व्यापारी बादशाह ने बताया कि इस बार की स्थिति बहुत खराब है। मंडी में रोज़ माल लाते हैं लेकिन टमाटर की बिक्री नहीं होने की वजह से टमाटर सड़ रहे हैं। जिससे हमें लाखों रुपये का नुकसान हो रहा है।

प्रयागराज के वरिष्ठ छाती रोग विशेषज्ञ डॉ.डी.एन. केशरवानी ने कहा कि मार्च-अप्रैल में सांस के मरीज़ों की तकलीफ अक्सर बढ़ जाती है क्योंकि मौसम में बदलाव होता है। लेकिन जब से लॉकडाउन शुरू हुआ है लोगों का आवागमन और प्रदूषण कम हुआ और इस मौसम में जो बहुत ज्यादा सर्दी-जुकाम हुआ करता था वो कम हुए हैं।

बांदा में शुक्रवार को दो युवक और एक महिला में कोरोना की पुष्टि हुई है। 75 लोगों का नमूना जांच के लिए भेजा गया था। जिसमें से 72 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। बांदा में कोरोना संक्रमितों की संख्या सात हो गई है। एक्टिव केस चार हैं।

happy birthday2020:अनुष्का,सपना था मॉडलिंग करने का, बन गई प्रसिद्ध एक्ट्रेस…

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि यूपी सरकार ने यहां पर निर्माण श्रमिकों, रोज कमाने वाले- ठेली, खोमचा, रेहड़ी, रिक्शा, ई-रिक्शा,कुली, ग्रामीण और शहरी क्षेत्र में 16 श्रेणी के कामगारों-धोबी,मिस्त्री, मोची, नाई, कुम्हार, राजमिस्त्री आदि के लिए भरण-पोषण भत्ता देने की व्यवस्था की। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अब तक ऐसे 30 लाख निर्माण श्रमिकों के साथ अन्य सभी श्रमिकों को ये सुविधा उपलब्ध कराई गई है। आज हम एक बार फिर से अपने 30 लाख श्रमिक वर्ग को दूसरी बार भरण पोषण भत्ता की राशि जारी कर रहे हैं।

 

=>
LIVE TV