आईसीएमआर ने 15 अगस्त तक बनाई कोरोना की वैक्सीन लाने की योजना

आईसीएमआर(भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद) 15 अगस्त तक कोरोना की वैक्सीन लाने की योजना बना रहा है। आईसीएमआर के डीजी बलराम भार्गव ने भारत बायोटेक को पत्र लिख दवा के ट्रायल पर हो रहे काम की गति को तेज करने को कहा है। ट्रायल की गति को बढ़ाने के लिए इसलिए कहा गया है जिससे 15 अगस्त तक परिणाम आ जाएं।

गौरतलब है कि भारत बायोटेक को हालही में कोरोना वैक्सीन कोवाक्सीन के क्लीनिकल ट्रायल का जिम्मा सौंपा गया था। इस पत्र में लिखा गया था कि भारत द्वारा कोरोना की दवा के विकास का ये पहला बड़ा प्रयास और प्रोजेक्ट है। इस प्रोजेक्ट पर सरकार की निगाह टिकी है और उसे प्राथमिकता के साथ आगे बढ़ाना है।

आईसीएमआर को लेकर सभी 12 संस्थानों को लिखे गये पत्र में कहा गया कि क्लीनिकल ट्रायलों के पूरा होने के बाद 15 अगस्त तक वैक्सीन के लॉन्च की योजना बनाई गयी है। तय समय सीमा की भीतर लक्ष्य को पूरा करने के लिए काम पूरा करने पर योजना बनाई गयी है। हालांकि वैक्सीन के लांच के लिए अंतिम परिणाम परिक्षणों पर ही निर्भर करेगा।

यह भी पढ़ें… चीन के लिए बुरी खबर, भारत के साथ जापान करेगा यह ‘सीक्रेट डील’

=>
LIVE TV