अमेरिका में कोरोना से मौत के बढ़ते मामलों के बीच राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा- क्वारंटीन की जरूरत नहीं है…

कोरोना वायरस से इस वक्त पूरी दुनिया के हाल खस्ता हो गए हैं. लोगों को घरों में रहने को कहा जा रहा है और संक्रमण से बचने के लिए उपाय बताए जा रहे हैं. अमेरिका की बात करें तो वहां हालात बद से बदतर होते जा रहे हैं. रोज़ कई मामले सामने आ रहे हैं जिसमें या तो मौत का पैगाम होता है या संक्रमण का. आपके बता दें, अमेरिका में रविवार की सुबह नौ बजे तक कोरोना संक्रमित मामलों का आंकड़ा बढ़कर 124,377 पहुंच गया है। वहीं, 2190 लोगों की मौत अब तक हो चुकी है

 

डोनाल्ड

इसके अलावा 1095 मरीज इस बीमारी से ठीक हुए हैं। संक्रमितों के सबसे अधिक मामले न्यूयॉर्क से सामने आ रहे हैं। जहां इस बीमारी की चपेट में आने से अब तक 672 लोगों की जान चली गई है। तेजी से फैलते कोविड-19 के संक्रमण रे बीच अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ट्वीट कर जानकारी दी कि व्हाइट हाउस की कोरोना वायरस टास्क फॉर्स ने न्यूयॉर्क में सख्त ट्रैवल एडवाइजरी जारी करने के निर्देश दिए हैं।

 

कोरोना वायरस पर अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि क्वारंटीन की जरूरत नहीं है। आज रात सीडीसी इस बारे में फैसला लेंगे। मालूम हो कि अमेरिकी सरकार भारत में कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए लगाए गए लॉकडाउन के बीच देश में फंसे अमेरिकी नागरिकों को निकालने की व्यवस्था कर रही है।

मंजूरी मिलने में लगेगा वक्त
अमेरिकी अधिकारी इयान ब्राउनली ने शुक्रवार को कहा कि हम भारत में फंसे अपने नागरिकों को वापस लाने के लिए विदेशी उड़ान सेवाओं से बातचीत कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि भारत और अमेरिका दोनों देशों की ओर से इसे मंजूरी मिलने में थोड़ा वक्त लगेगा। भारत में लगे लॉकडाउन के कारण सभी उड़ाने रद्द हैं और परिवहन की सभी सेवाएं बंद हैं।

=>
LIVE TV