अनजान शख्स संसद के अंदर, प्रधानमंत्री के रास्ते तक पहुंचा

एजेंसी/LIVE-GST-bill-and-other-issues-the-Prime-Minister-s-speech-in-the-Lok-Sabha-Parliamentनई दिल्ली। संसद की सुरक्षा में बड़ी चूक सामने आई है। शुक्रवार सुबह सात से आठ बजे के बीच एक नौजवान संसद के आने घुस गया। उसके पास कोई वैध पास भी नहीं था। संसद के अंदर उसकी चेकिंग नहीं हुई। सुरक्षा बलों को भनक तब लगी, जब वह युवक प्रधानमंत्री के आने वाले रास्ते तक पहुंच गया। इन दिनों संसद सत्र चल रहा है। ऐसे में किसी अनजान शख्स का बेरोकटोक संसद के अंदर तक घुसना कई सवाल खड़े करता है।

संसद की सुरक्षा में चूक

यूपी के उन्नाव के रहने वाले इस युवक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने उससे पूछताछ शुरू कर दी है। उसके पास से आधार कार्ड और 12वीं की मार्कशीट मिली है। बताया जा रहा है कि प्रदीप नाम का यह शख्स ऑटो ड्राइवर है। उसने पुलिस को बताया कि वह संसद तक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलने आया था। उसे नौकरी की जरूरत है। एक दोस्त ने उससे कहा था कि नौकरी के प्रधानमंत्री से जाकर मिले, इस‍ीलिए वह दिल्ली तक आ गया।

खबरों के मुताबिक 25 साल के प्रदीप ने पुलिस को बताया कि वह तालकटोरा गेट नंबर 2 से संसद भवन के अंदर घुसा था। यहां उसकी कोई जांच नहीं की गई। अनजाने में ही वह प्रधानमंत्री कार्यालय तक पहुंच गया। यहां दिल्ली पुलिस, आईबी और स्पेशल सेल की टीम प्रदीप से पूछताछ कर रही है। प्रदीप संसद भवन में बिना जांच के इतनी अंदर तक कैसे घुस आया, इससे संसद की सुरक्षा पर सवाल उठ गए हैं। इससे पहले भी संसद की सुरक्षा पर कई बार सवाल उठ चुके हैं। संसद में 2001 में आतंकी हमला हुआ था। इसमें दिल्ली पुलिस के छह जवान शहीद हुए थे। वहीं कई लोग घायल हुए थे।

वहीं, कुछ साल पहले एक विदेशी नागरिक ने संसद भवन के गेट नंबर-10 के पास ड्रोन कैमरे को उड़ाकर करीब आधे घंटे तक रिकॉर्डिंग की। हालांकि बाद में पता चला कि ड्रोन उड़ाने वाला व्यक्ति रूसी दूतावास में अधिकारी है। उसने बताया कि वह अपने बच्चे को कई एंगल से संसद भवन दिखाना चाहता था, इसलिए उसने ड्रोन उड़ाया था।

 

=>
LIVE TV