अतिथि देवो भवः से विकसित होगा भारत

pranab-mukhrjee_57185d85893a8एजेंसी/ ग्रेटर नोएडा : भारत में यदि विदेशी पर्यटकों की सुविधा और सुरक्षा पर ध्यान दिया जाए और सफाई को महत्व दिया जाए तो पर्यटन बढ़ सकता है। यह बात महामहिम राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने कही। दरअसल राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ग्रेडर नोएडा में आयोजित होने वाले इंडिया एक्सपोमार्ट सेंटर में चार दिवसीय वैश्विक प्रदर्शनी का शुभारंभ करने के लिए पहुंचे। उन्होंने कहा कि वर्ष 1991 में सेवा क्षेत्र में सकल घरेलू उत्पाद का योगदान 4.1 प्रतिशत था। वर्ष 2015 में यह उत्पाद 66 प्रतिशत पहुंच गया।

वैश्विक प्रदर्शनी सेवा निर्यात परिषद और भारतीय उद्योग परिसंघ के ही साथ वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय द्वारा यह आयोजित किया गया। इस समारोह में मौजूद राज्यपाल राम नाईक ने इंटरनेट,मोबाईल सेवाओं पर चर्चा की। उन्होंने कहा कि सेवा क्षेत्र में बड़ी संभावनाऐं हैं। मगर इन सेवाओं को प्रदान करने के लिए गुणवत्ता का ध्यान रखना बहुत जरूरी है। इस दौरान काॅलड्राॅप की समस्या का समाधान हो सकता है।

केंद्रीय दूरसंचार मंत्री रविशंकर प्रसाद, वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय की राज्यमंत्री निर्मला सीतारमण, पर्यटन, संस्कृति और नागरिक उड्डयन राज्य मंत्री डाॅ. महेश शर्मा ने वैश्विक प्रदर्शन को संबोधित किया। महामहिम के आगमन के चलते व्यापक पैमाने पर तैयारियां की गईं। इसके लिए सुरक्षा का बहुत ध्यान रखा गया।

महामहिम राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने कहा कि करीब 1000 सुरक्षाबल तैनात किए गए थे। जिसमें 4000 महिला और पुरूष कांस्टेबल, 100 सब इंस्पेक्टर, 25 इंस्पेक्टर, 10 सीओ, 14 कंपनी पीएसी और पैरामिलिट्री बल भी तैनात किया गया था। यहां पर एसपी और उच्च अधिकारी भी उपस्थित थे। दरअसल इस प्रदर्शनी में उन सुविधाओं का प्रदर्शन होगा जो कि बैंकिंग, वित्तीय, शिक्षा, पर्यावरणीय सेवाऐं, स्वास्थ्य, आईटी और दूरसंचार आदि क्षेत्र शामिल होंगे।

=>
LIVE TV