Friday , February 23 2018

सैन्य परिवारों का ख्याल रखने के लिए सेना ने उठाया कदम

पिथौरागढ़। सोमवार को पिथौरागढ़ में थल सेनाध्यक्ष मेजर बिपिन रावत ने तीन कुमाऊं राइफल्स के शताब्दी समारोह को संबोधित करते हुए कहा कुमांऊ राइफल्स के सीओ धीरज कुमार सिंह, कैप्टन मुकेश यादव, सूबेदार मेजर प्रकाश पंत, नायब सूबेदार क्लर्क जय प्रकाश, नायक मनोहर सिंह, सिपाही संजय चंद को सीओएएस सम्मान से नवाजा। साथ ही मेजर बिपिन रावत  ने ऐलान किया कि राज्य के सुदूर क्षेत्रों में रह रहे पूर्व सैनिक और वीरांगनाओं की सभी दिक्कतों को जल्द से जल्द समाप्त किया जाएगा।

जेम्स टॉबेक पर 38 महिलाओं का आरोप, काम देने के नाम पर करते थे…

थल सेनाध्यक्ष जनरल रावत ने कहा कि सेना द्वारा सैन्य परिवारों का बहुत ही अच्छे से ख्याल रखा जाएगा और यह भी कहा कि सुदूरवर्ती क्षेत्र के पूर्व सैनिकों और वीरांगनाओं कई समस्याएं हैं और यह समस्याएं सेना के उन तक न पहुंचने के कारण हैं, जिसे अब सेना अपनी जिम्मेदारी समझते हुए इन पूर्व सैनिकों और वीरांगनाओं की समस्याओं को दूर करेगी।

कुमाऊं के शौर्य को भी सराहा गया

थल सेनाध्यक्ष जनरल बिपिन रावत ने तीन कुमाऊं राइफल्स के शताब्दी समारोह में सेरेमोनियल परेड की सलामी ली। जनरल रावत ने कहा कि तीन कुमाऊं राइफल्स का जो भी इतिहास रहा है वह शौर्य गाथाओं से भरा हुआ है।

इसलिए यह समारोह हम सभी के लिए बेहद जरूरी है। थल सेनाध्यक्ष ने सेना के अधिकारियों और पूर्व सैनिकों तथा वीरांगनाओं को शताब्दी समारोह की बधाई दी। उन्होंने यह भी कहा कि इस समारोह की परेड की सलामी लेना गर्व की बात है। सलामी लेते हुए उन्होंने गौरव महसूस किया।

भारत में फिर पैर पसार रहा पोलियो वायरस, सीवेज नमूनों से हुआ खुलासा

=>
LIVE TV