Wednesday , October 17 2018

टाइट के चक्कर में आपको चलने लायक नहीं छोड़ेगी बेल्ट, ध्यान रखें ये बातें

नई दिल्ली। जींस हो या पैंट, कमर पर भले ही एकदम फिट हो लेकिन बेल्ट को न लगाओ तो लगता है कमर कम हो गई। बेल्ट सभी की आदत में शुमार हो गई है। करीब-करीब सभी लोग कमर पर बेल्ट बांधते हैं। लेकिन बेल्ट पहनने का तरीका भी होता है, जो सभी नहीं जानते।

बेल्ट पहनने का तरीका

पैंट या जींस को कसे रखने के लिए यह काफी अहम होती है। मगर, आप इसे जरूरत से ज्यादा टाइट बांधते हैं, तो सावधान हो रहने की जरूरत है। यह आदत आपसे चलने की ताकत तक छीन सकती है।

यह भी पढ़ें : बिरयानी में बिल्ली का मीट तो नहीं खाते आप? पकड़ में आया चौंकाने वाला मामला

टाइट बेल्ट बांधने से पेट की नसें दबी रहती हैं। लंबे समय तक ऐसा करने से पेल्विक से निकलने वाली आर्टरी, वेन्स, मसल्स और आंतों पर दबाव पड़ता है। इसके कारण शुक्राणुओं की संख्या में कमी आ सकती है, जो पुरुषों में नपुंसकता का बड़ा कारण बन सकता है।

लिहाजा बेल्ट को ढ़ीला करके पहनना चाहिए। इसे इतना ही टाइट पहहना चाहिए कि यह पैंट या जींस को साधे रख सके, लेकिन पेट पर कोई दबाव नहीं बनाए।

यह भी पढ़ें : चमत्कार से कम नहीं ये ख़ास जेल, घर में ही बनाएं और दुनिया पर छा जाएं

कोरिया के शोधकर्ताओं ने 12 पुरुषों पर रिसर्च की। उन्होंने पाया कि कमर पर टाइट बेल्‍ट बांधने से पेट की मांसपेशियों के काम करने का तरीका बदल जाता है। शोध में यह भी साबित हुआ कि लंबे समय तक टाइट बेल्ट बांधने से रीढ़ की हड्डी में अकड़न आ सकती है।

इसके साथ ही सेंटर ऑफ ग्रेविटी में भी बदलाव आता है। इसके कारण घुटनों के जोड़ों पर भी जरूर से ज्यादा प्रेशर पड़ता है, जिससे जोड़ो में दर्द की समस्या भी बढ़ जाती है।

ये आदत तब मुसीबत बन जाती है जब हम रोज टाइट बेल्ट बांधते हैं। इसके कारण दिनभर पेट की नर्व्स दबी रहती हैं। ऐसा लंबे समय तक करने से पेल्विक रीजन से निकलने वाली आर्टरी, वेन्स, मसल्स और आंतों पर प्रेशर पड़ता है। इसके कारण स्पर्म काउंट कम हो सकता है, जिससे पुरुषों की फर्टीलिटी घटने की आशंका बढ़ जाती है।

=>
LIVE TV