डेटा लीक से परेशान UIDAI ने उठाया कदम, शुरू होगी दो नई सुविधाएं

नई दिल्ली। आज आधार कार्ड हर जगह जरूरी हो गया। हर काम के लिए आधार को अनिवार्य कर दिया गया है। मोबाइल और बैंक खातों से आधार को लिंक कराने की डेडलाइन फिलहाल के लिए बढ़ा दी गई है। वहीं सुप्रीम कोर्ट में आधार अथॉरिटी यूआईडीएआई के सीईओ अजय भूषण पांडे का कहना है कि बायोमैट्रिक के अलावा आधार ऑथेंटिकेशन के अन्य विकल्पों पर भी विचार करना होगा। इससे पहले यूआईडीएआई आधार डाटा को सुरक्षित करने के लिए दो नई सुविधाएं लाने की घोषणा कर चुका है।

आधार कार्ड

दरअसल UIDAI हर आधार कार्ड के लिए एक वर्चुअल आईडी तैयार करने की सुविधा ला रहा है। इस सुविधा के आते ही आपको जब भी आधार डिटेल की जरूरत पड़ेगी तो आपको 12 अंकों के आधार नंबर की बजाय 16 नंबर की वर्चुअल आईडी देनी होगी।

यह भी पढ़ें-वॉलमार्ट इंडिया ने समीर अग्रवाल को नियुक्त किया कार्यकारी उपाध्यक्ष

यूआईडीएआई ने कहा था कि 1 जून से यह सुविधा आ जाएगी। 1 जून से सभी एजेसियों को इसे लागू करने के लिए व्यवस्था करना अनिवार्य होगा। इसके बाद कोई भी एजेंसी वर्चुअल आईडी स्वीकार करने से इनकार नहीं कर सकती है।

यह भी पढ़ें-खुशखबरी: घर में बैठे-बैठे ही फुल हो जाएगी कार की टंकी

इसी के साथ आधार डाटा को और भी ज्यादा सिक्योर बनाने के लिए फेस वेरीफिकेशन की सुविधा लाने की बात कही गई थी। इस बात की घोषणा यूआईडीएआई ने जनवरी महीने में ही कर दी थी।

=>
LIVE TV