बीजेपी प्रवक्ता तेजिंदर बग्गा को HC से राहत,मोहाली कोर्ट से अरेस्ट वारंट हुआ था जारी

( रितिक भारती )

दिल्ली के भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नेता तेजिंदर बग्गा को मंगलवार को हाई कोर्ट से बड़ी राहत मिली है। उनकी गिरफ्तारी पर 5 जुलाई तक रोक लगा दी गई है। बता दें कि इससे पहले पंजाब और हरियाणा हाइकोर्ट के जस्टिस अनूप चितकारा के घर पर 7 मई की आधी रात को सुनवाई हुई थी और तेजिंदर बग्गा को 10 मई तक अरेस्ट वारंट से राहत दे दी गई थी। हाईकोर्ट ने कहा था कि तेजिंदर बग्गा के खिलाफ कोई कठोर कार्रवाई ना की जाए।

दरअसल इससे पहले मोहाली कोर्ट से जारी हुए गिरफ्तारी वारंट के खिलाफ बग्गा ने शनिवार देर शाम पंजाब-हरियाणा हाई कोर्ट का रूख किया था। शनिवार देर शाम अदालत ने जेस्टिस अनूप चितकार के आवास पर सुनवाई की अनुमति दी थी। आधी रात को याचिका पर सुनवाई हुई और हाई कोर्ट से बग्गा को राहत मिल गई थी। बग्गा पर सीएम केजरीवाल के खिलाफ टिप्पणी के मामले में FIR दर्ज हुई थी, फिर मोहाली कोर्ट ने बग्गा का अरेस्ट वारंट जारी किया था। बग्गा ने फिलहाल गिरफ्तार से राहत की मांग की थी।

तेजिंदर पाल सिंह बग्गा के खिलाफ आम आदमी पार्टी के नेता डॉ. सनी सिंह की शिकायत पर 1 अप्रैल को मोहाली में धार्मिक भावना भड़काने का केस दर्ज किया गया था। बग्गा ने ‘द कश्मीर फाइल्स ‘ फिल्म पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की टिप्पणी के बाद उन पर निशाना साधा था।

इसी केस के आधार पर पंजाब पुलिस बग्गा को दिल्ली स्थित घर से उठाकर ले गई थी। भाजपा नेताओं के मुताबिक, दूसरी बार पंजाब पुलिस के करीब 50 जवान बग्गा को उनके घर से गिरफ्तार कर पंजाब ले जा रहे थे, जिन्हें दिल्ली पुलिस की सूचना पर हरियाणा पुलिस ने रोक लिया था।

LIVE TV