Thursday , November 15 2018

राष्ट्रगान की आड़ लेकर अपना उल्लू सीधा करने में लगे लोग, विद्यालय में मचा रहे तांडव

रिपोर्ट कपिल सिंह 

बुलन्दशहर| यूपी के बुलन्दशहर से एक अजीब-ओ-गरीब मामला सामने आया है, यहां बुलन्दशहर के अरनिया क्षेत्र के रूदरी ग्राम प्रधान और कुछ ग्रामीणों ने गांव में स्थित जूनियर माध्यमिक विद्यालय के प्रधानाध्यापक पर स्कूल में बच्चों से राष्ट्रगान ना कराने का आरोप लगाया है, वहीं स्कूल प्रधानाध्यापक का दावा है कि इस विद्यालय में सुबह नहीं बल्कि छुट्टी के समय राष्ट्रगान कराया जाता है।

राष्ट्रगान की आड़ लेकर अपना उल्लू सीधा करने में लगे लोग, विद्यालय में मचा रहे तांडव

ये मामला है बुलन्दशहर के अरनिया क्षेत्र स्तिथ रूदरी गाँव का जूनियर माध्यमिक विद्यालय, और धर्म विशेष से ताल्लुक रखने वाले इस विद्यालय के प्रधानाध्यापक पर आरोप है कि वो इस विद्यालय में राष्ट्रगान नहीं कराते हैं, और इसी तरह का एक वीडियो सोशल मीडिया पर भी वायरल हो रहा है। वीडियो में दिख रहा है कि कुछ लड़के स्कूल का घेराव करके राष्ट्रगान ना कराने को लेकर बहस करते नज़र आ रहे हैं।

वायरल वीडियो को देखने के बाद हमारी टीम इस गांव में पहुंची तो ग्राम प्राधान ने भी बताया कि इस विद्यालय में बच्चों से राष्ट्रगान नहीं कराया जाता है। आरोप है कि विद्यालय के प्रधानाध्यापक का व्यवहार भी ठीक नहीं है।

इस प्रकरण पर स्कूल के प्रधानाध्यापक का कुछ और ही कहना है। प्रधानाध्यापक का दावा है कि स्कूल में सुबह नहीं बल्कि छुट्टी के समय राष्ट्रगान कराया जाता है। प्रधानाध्यापक ने यहां तक कहा है कि ये एक दो दिन से नहीं बल्कि उनके यहां आने से पहले से होता आ रहा है।

जिसे कुछ अराजकतत्व अपनी निजी दुश्मनी का फायदा उठाते हुए मुद्दा बना रहे हैं।

यह भी पढ़ें: हमारा भारत…. 112 लूट और 185 हत्याओं के आरोपी से लोग मांगते है वरदान

वहीं ब्लॉक के एबीएसए भी इस पूरे प्रकरण को आपसी रंजिश का मामला बता रहे हैं, लेकिन यहां सवाल ये उठता है कि आपसी रंजिश का राष्ट्रगान से क्या लेना देना।

हालांकि एबीएसए भी अब इस पूरे प्रकरण की जांच कराकर कार्यवाही करने का दावा कर रहे हैं लेकिन प्राथमिक विद्यालय में राष्ट्रगान न कराने का मुद्दा वाकई जांच का विषय है।

=>
LIVE TV