Sunday , September 23 2018

आफत के पहाड़ तले भाजपाई नरेश, विरोधियों का मुंह बंद करने के लिए चला नया पैंतरा

नई दिल्ली: भाजपा ज्वाइन करते ही नरेश अग्रवाल ने ऐसा बयान दिया जिससे बखेड़ा खड़ा हो गया. जया बच्चन पर आए उनके इस बयान की चौतरफा आलोचना हो रही है. मंगलवार सुबह मीडिया से बात करते हुए नरेश अग्रवाल ने अपने बयान पर खेद जताया है.

नरेश अग्रवाल

अग्रवाल ने कहा है कि अगर मेरी किसी बात से से किसी को ठेस पहुंची है तो मैं खेद व्यक्त करता हूं. हालांकि उन्होंने माफ़ी मांगने से इनकार किया है. उन्होंने कहा कि सभी को खेद शब्द का मतलब पता है.

नरेश अग्रवाल ने लिया यू टर्न!

भाजपा ज्वाइन करने के अगले दिन नरेश अग्रवाल के सुर भी बदले दिखे. उन्होंने कहा कि वो भी हिंदू हूं और कोई भी हिंदू राम मंदिर बनने का विरोध नहीं करता है. फिलहाल वो भाजपा में नए हैं और किसी भी तरह के विवाद में नहीं पड़ना चाहते.

यह भी पढ़ें : नहीं रहीं लखनऊ की शान बेगम हमीदा, 102 वर्ष की उम्र में निधन

सोमवार को ही नरेश अग्रवाल समाजवादी पार्टी को छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए हैं. भाजपा की सदस्यता ग्रहण करते हुए उन्होंने कहा था कि डांस करने वालों की वजह से सपा में मेरा राज्यसभा का टिकट काटा गया. उनके इस बयान से पार्टी के लिए कुछ देर के लिए असहज स्थिति हो गई. नरेश अग्रवाल के इस बयान के बाद ना सिर्फ विपक्षी पार्टियों ने बल्कि बीजेपी की ही कई बड़ी महिला नेताओं ने अपना विरोध जताया था.

इसके बाद उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी नरेश अग्रवाल के बयान की निंदा की और बीजेपी से कड़ी कार्रवाई करने की अपील की थी.

=>
LIVE TV